एंटी एजिंग है शहतूत, बनाए रखता है लंबे समय तक जवां, वेट लॉस के लिए भी है रामबाण

mulberry shahtut

सुंदरता और स्वास्थ्य की दृष्टि से (mulberry) को एंटी एजिंग माना जाता है, क्योंकि शहतूत में एंटी एज यानी उम्र को रोकने वाला एक विशेष प्रकार का गुण होता है। यह जहां त्वचा में ताजगी भर देता है वहीं चेहरे से झुर्रियों को भी गायब कर देता है। इतना ही नहीं इसे वेट लॉस यानी बढ़ते वजन को कम करने में भी मददगार माना जाता है।


इसका सेवन रामबाण माना जाता हैं, क्योंकि शहतूत में दूसरे लाभदायक फलों की तुलना में 79 प्रतिशत ज्यादा एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है। शहतूत में पोटैशियम, विटामिन ए और फॉस्फोरस होता है। शहतूत बालों में सुंदरता तथा चेहरे को खूबसूरत बनाता है।

शहतूत में रेजवर्टेरोल पाया जाता है जिसमें स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाने वाला गुण पाया जाता है। शोधकर्ताओं ने शहतूत में कई ऐसे लाभदायक गुणों को खोजा है जो कई बीमारियों में वरदान साबित हो सकते हैं। शहतूत में पाया जाने वाले रेजवर्टेरोल का उपयोग खास तौर पर रेड वाइन में किया जाता है। रेजवर्टेरोल शरीर में फैले प्रदूषण को साफ करके संक्रमित चीजों को बाहर निकालने का कार्य भी करता है।

इसके अलावा भी शहतूत में कई अन्य गुण पाए जाते हैं, जैसे आंखों की गड़बड़ी ठीक करना, लंग कैंसर, कोलोन और प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम को कम करता है। यह रक्त में मौजूद शर्करा पर नियंत्रण, तनाव दूर करने तथा शरीर में बनने वाले रक्त के थक्के को रोक कर निर्बाध रूप से रक्तसंचार सभी अंगों तक पहुंचाता है।

शहतूत का फल खाने में जितना स्वादिष्ट होता है उतना ही सेहतमंद होता है। शहतूत के जूस में संतरे से दोगुना एंटीऑक्सीडेंट होता है। शहतूत खाने से पाचन शक्ति अच्छी रहती है। यह सर्दी, जुकाम, यूरिन आदि कई रोगों में भी बेहद फायदेमंद है।

शहतूत में भूख कम करने या दबाने की शक्ति होती है, जो वेट लॉस के लिए बहुत जरूरी है। शहतूत की पत्तियों की चाय मोटापा कम करने और सफेद शहतूत वजन घटाने में मदद करता है। इतना ही नहीं शहतूत के फल तथा उसकी पत्तियां वजन घटाने तथा शरीर के फैट को कम करने में कारगर साबित होती है।




और भी पढ़ें :