Karwa Chauth Health Plan: करवा चौथ के दिन महिलाएं क्या करें और क्या नहीं , बनी रहेगी सेहत

करवा चौथ का व्रत महिलाओं के लिए बेहद खास होता है। इस दिन महिलाएं सोलह श्रृंगार करती है जो सुहागिन के लिए बहुत मायने रखता है। और पति के दीर्घायु के लिए व्रत

रखती है। त्योहार के दिनों में महिलाओं को बहुत सारे काम होते हैं। हालांकि जाने-अनजाने में महिलाओं को कुछ कार्य करवा चौथ के दिन नहीं करना चाहिए। जिससे सीधे उनकी सेहत
पर असर पड़ता है। आइए जानते हैं व्रत से पहले और व्रत के बाद किन बातों का ध्यान महिलाओं को जरूर रखना चाहिए। ताकि सेहत भी बनी रहे।



करवा चौथ व्रत से पहले महिलाओं को सेहत का ख्‍याल रखते हुए क्‍या करना चाहिए -

- रात को जल्‍दी सोए ताकि सुबह उठने में आपको थकान भी महसूस नहीं हो और फ्रेश महसूस करें।
- सूर्योदय से पूर्व तक महिलाएं खा सकती है। ऐसे में सरगी में पौष्टिक आहार शामिल करें ताकि लंबे वक्त तक पेट भरा रहे। फल, दूध, ड्राई फ्रूट्स का सेवन करें। यह चीजें थोड़ी मात्रा में खाने पर भी पेट भरा जाता है।
- कोशिश करें पेट भर कर खाना ही खाएं। तला-भुना खाने से बचें।
- व्रत के दिन बहुत अधिक काम नहीं करें। खुद को व्यस्त रखने के लिए परिवार और दोस्तों के साथ समय बिताएं।
- व्रत के दिन बहुत अधिक टीवी और मोबाइल नहीं चलाएं। इससे आपकी आंखों पर जोर पड़ेगा।
- रात को सोने से पहले सूखे मेवे का उबला हुआ दूध पीएं। इससे आपका पेट लंबे वक्त तक भरा रहेगा और कमजोरी महसूस नहीं होगी।
-सरगी में कीवी का भी सेवन करें। इससे इम्‍यून सिस्‍टम मजबूत होता है।
- नारियल पानी या आंवले का मुरब्बा दोनों का सेवन कर सकती हैं, दोनों ही सेहत के लिए गुणकारी है। इसका सेवन करने से थकान महसूस नहीं होगी।
- व्रत के दिन भूलकर भी किसी प्रकार का व्यायाम, योग या जिम नहीं जाएं। इससे आपको अधिक थकावट हो सकती है।
- व्रत से एक दिन पहले एकदम लाइट भोजन ही करें। ऐसा करने से आपको अगले दिन बहुत अधिक प्यास नहीं लगेगी।

व्रत खोलने के बाद क्‍या नहीं करना चाहिए -

अक्सर देखा जाता है कि व्रत के बाद डिनर में बहुत सारी स्वादिष्ट डिश बनाई जाती है। लेकिन यह व्रत करने वाली महिलाओं को जरा भी हैवी चीजें नहीं खाना चाहिए। ऐसा इसलिए क्‍योंकि दिनभर आप भूखे रहते हैं जिससे आपका शरीर कमजोर हो जाता है और अचानक से हैवी चीजें खाने से आपकी सेहत पर उल्टा असर पड़ सकता है। जैसे जी मचलाना, कमजोरीलगना, पेट गड़बड़ हो जाना, पेट दर्द आदि।

- व्रत के बाद बहुत अधिक पानी नहीं पीएं। थोड़ा- थोड़ा पानी पींए। अन्यथा उल्टी हो सकती है या जी घबरा सकता है।
- व्रत पारण के बाद तुरंत चाय नहीं पीएं। इससे एसिडिटी हो सकती है।
- व्रत पारण के बाद पेट भरकर नहीं खाएं। इससे आपकी तबियत बिगड़ सकती है।





और भी पढ़ें :