डायट, स्‍ट्रेस और लाइफ स्‍टाइल ने बढ़ा दिया ‘दिल का दर्द’, कैसे पहचानें हार्टअटैक के संकेत और कैसे हो जाएं ‘अलर्ट’

Heart attack
Last Updated: शुक्रवार, 3 जून 2022 (15:46 IST)
हमें फॉलो करें
वेबदुनिया की इंदौर के जाने-माने हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ अखिलेश जैन से खास चर्चा

पहले टीवी अभिनेता सिद्धार्थ शुक्‍ला, फिर एक मलयालम सिंगर और उसके बाद अब लोकप्रिय सिंगर केके। इन सभी की दिल के दौरे की वजह से मौत हो गई। दुखद बात तो यह थी कि सभी फिट रहने वाले, जिम जाने वाले और अच्‍छी डाइट लेने वाले लोग थे। ऐसे लोगों को हार्ट अटैक आने की आशंका कम होती है, लेकिन जिस तरह से युवाओं को दिल के दौरे आ रहे हैं, इसमें डॉक्‍टर साफतौर से स्‍ट्रेस, लाइफस्‍टाइल और डायट को मानते हैं

वेबदुनिया ने इस विषय को लेकर इंदौर के जाने-माने हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ अखिलेश जैन से चर्चा की। उन्‍होंने विस्‍तार से बताया कि हार्ट अटैक की क्‍या वजह है, यह अटैक आने से पहले कैसे संकेत मिलते हैं और कैसे इससे समय रहते बचाव किया जा सकता है।

सबसे बड़ी वजह स्‍ट्रेस और लाइफस्‍टाइल
इंदौर के अपोलो अस्‍पताल में हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ अखिलेश जैन के मुताबिक युवाओं में हार्ट अटैक की सबसे बड़ी वजह स्‍ट्रेस और लाइफस्‍टाइल हैं। निश्‍चित तौर पर फैमिली हिस्‍ट्री भी इसका एक कारण है, लेकिन इन दिनों सबसे ज्‍यादा जो कारण जिम्‍मेदार है, वो स्‍ट्रेस, लाइफस्‍टाइल और डायट हैं।

लाइफस्‍टाइल
डॉ जैन ने बताया कि इन दिनों बगैर नॉनवेज खाना, ड्रिंक करना और सिगरेट स्‍मोकिंग करने वालों की तादात में इजाफा हुआ है। इन चीजों ने लाइफस्‍टायल को खराब किया है। इसके साथ ही लोगों में व्‍यायाम करने, शारीरिक श्रम करने को लेकर भी उतनी दिलचस्‍पी नहीं है। रात में देर से सोना, सुबह देर से उठना। खाने में मसालेदार, तला, गला, मिर्च वाला और बाजार का भोजन दिल को नुकसान पहुंचाता है।

स्‍ट्रेस


जॉब, बिजनेस और पैसे कमाने के लिए किए जाने वाले एफर्ट की वजह से इन दिनों लोगो में स्‍ट्रेस यानी तनाव बढ़ा है। ऑफिस समय पर पहुंचने की चिंता, टारगेट पूरा करने की चिंता। मीटिंग्‍स। ट्रैफिक की भागदौड़। शोर और चारों तरफ पसरा पॉल्‍यूशन। इन सब की वजह से आदमी की जिंदगी एक मशीन में तब्‍दील हो गई। है। दूसरी तरफ वो न तो योगा करता है और न व्‍यायाम। ऐसे में चाहे कोई किसी भी उम्र का हो स्‍ट्रेस बढ़ जाता है और उसका नतीजा दिल की बीमारियों के रूप में सामने आता है।

कैसे पहचाने हार्ट अटैक के संकेत को

हार्ट अटैक आने के सामान्य लक्षण
- सीने के बाएं ओर दर्द होता है।
- बाएं हाथ में भी दर्द होता है।
- घबराहट, पसीना आना, सांस लेने में तकलीफ।
- कंधे, जबड़े में दर्द होता है।
- पीठ में हल्का दर्द होता है।

अन्‍य क्‍या कारण हो सकते हैं

हार्ट अटैक के ये हो सकते हैं कारण
फैमिली हिस्‍ट्री, ब्लड प्रेशर की प्रॉब्‍लम, डायबिटिज, मोटापा, हाइपरटेंशन, बढ़ा हुआ कोलेस्ट्राल। इन बीमारियों वाले लोगों को हार्ट अटैक का खतरा ज्यादा होता है।

कैसे करें बचाव
- नियमित व्यायाम करे
- चिकनाईयुक्त भोजन न करे।
- बेकरी प्रोडक्ट व फास्ट फूड न खाए।
- बर्जर व पिज्जा का सेवन न करे।
- फल व सब्जियों का सेवन ज्यादा करे।
- धूमपान न करे
- वजन कम रखे
- योगा करे।



और भी पढ़ें :