डायबिटीज है तो फलों से न बनाएं दूरी, इन फलों को करें डाइट में शामिल


यह बात आसानी से कही जा सकती है कि के मरीजों की पूरी डाइट बदल जाती है। हो सकता है खुद को सुरक्षित रखने के चक्कर में आपसे हो रही हैं ऐसी गल्तियां जो आपकी बीमारी को बढ़ा रही हैं। ये आदतें आपके शरीर को कमज़ोर कर रही हैं।

आप जानिए कुछ ऐसी खास डाइट से जुड़ी बातें जो आपकी समस्या को दुरूस्त करेंगी साथ ही आपको बेहतर महसूस कराएंगी। डायबिटीज से जुड़े भ्रम में लोग फलों से दूरी बना लेते हैं। सही क्या है आज ही जान लीजिए।

ALSO READ:
मधुमेह रोगियों के लिए रेसिपी : शुगर फ्री डेजर्ट विथ फ्रूट्‍स

टाइप 2 डायबिटीज से जूझ रहे लोगों को कार्बोहाइड्रेट को लेकर सचेत रहना ज़रूरी है। यह सीधे सीधे ब्लड शुगर लेवल पर प्रभाव छोडता है। डायबिटीज से जूझ रहे लोग ग्लेसेमिक इंडेक्स और ग्लेसेमिक लोड वाले फलों को जानें। फल आपको स्वस्थ रखते हैं क्योंकि न्यूट्रिएंट्स के अलावा ये शरीर को फायबर देते हैं।



कम मात्रा में फल लिए जा सकते हैं। कितना बड़ा फल आपको खाना है इसका पता आपकी डायबिटीज ही बता देगी। अगर आपका ब्लड शुगर लेवल बार बार बदलता है तो आपको फलों को लेकर डॉक्टर से पूछना चाहिए। फिर भी किन फलों को आप अपना सकते हैं यहां जानिए

1. नाशपाती : नाशपाती ग्लेसेमिक इंडेक्स के मुताबिक डायबिटीज़ के मरीज़ों के लिए अच्छा ऑप्शन है। बेहतर होगा इसे छिलके सहित खाया जाए।

2. संतरे : इसका भी ग्लेसेमिक इंडेक्स डायबिटीज़ के हिसाब से है। इससे विटामिन सी और फायबर मिलता है।

3. चेरी : इसका ग्लेसेमिक इंडेक्स बहुत कम है और न्यूट्रिएंट्स जबरदस्त। इसे खाया जा सकता है।

 

और भी पढ़ें :