क्या आप जानते हैं कि हनुमानजी सुनते हैं रामकथा...

hanuman ji
माना जाता है कि जहां रामकथा होती है वहां हनुमान कथा सुनने पहुंचते हैं। कहा गया है एक बार राजदरबार में ने हनुमान को अपने गले से मोती की माला उतार कर दी। हनुमान ने हर एक मोती को दांत से काटकर देखा और पूरी माला तोड़ दी। 
 
श्रीराम ने पूछा इतनी सुंदर माला तुमने दांत से काट-काटकर क्यों फेंक दी। हनुमान ने कहा कि प्रभु जिस वस्तु में आप नहीं वह मेरे किस काम की। 
 
तब श्रीराम ने पूछा, तुम्हारे का निवास है? 
 
हनुमान ने हृदय चीरकर दिखाया कि वहां राम, लक्ष्मण और सीता विद्यमान है। हनुमान को राम नाम प्रिय है। जहां भी रामकथा होती है वहां वे कथा श्रवण को आते हैं। >
>  



और भी पढ़ें :