विश्व उच्च रक्तचाप दिवस आज, क्यों होती है hypertension की बीमारी, जानिए लक्षण भी

world day
मनाया जाता है। Hypertension (हाइपरटेंशन) का मुख्य कारण स्ट्रेस और अनियंत्रित खानपान होता है, जो वैसे तो किसी भी व्यक्ति का हो सकता है। लेकिन आमतौर पर घर से दूर रहने वालों में यह ज्यादा देखा गया है।

हाइपरटेंशन को ही उच्च रक्तचाप व हाई बीपी की समस्या कहते है, जिसमें धमनियों में रक्त का दबाव बढ़ जाता है। इस दबाव की वृद्धि से रक्त की धमनियों में रक्त का प्रवाह बनाए रखने के लिए दिल को अधिक काम करने की आवश्यकता पड़ती है।
हेल्थ गाइडलाइन्स के मुताबिक से ज्यादा रक्त का दबाव होने पर व्यक्ति हाइपरटेंशन या हाई ब्लड प्रेशर की श्रेणी में आ जाता है। वैसे तो हाई ब्लड प्रेशर शरीर के किसी अंग को कभी भी प्रभावित कर सकता है, लेकिन इससे सबसे ज्यादा नुकसान हृदय को होता है। आइए, जानते हैं हाइपरटेंशन के कुछ मुख्य कारण-

Hypertension के कारण
* नींद की कमी
* मोटापा
* अत्यधिक गुस्सा करना
* नॉनवेज का अधिक सेवन
* तैलीय पदार्थों और अस्वस्थ भोजन का सेवन

आइए, अब जानते हैं हाइपरटेंशन के कुछ साधारण लक्षण-

1 हाइपरटेंशन व उच्‍च रक्‍तचाप होने की स्थिति में व्यक्ति को शुरुआत में सिर के पीछे और गर्दन में दर्द रह सकता है।
2 हाइपरटेंशन के रोगी को सांस लेने में तकलीफ होने लगती है।

3 रक्‍तचाप बढ़ने पर व्यक्ति को धुंधला दिखने के साथ पेशाब के साथ खून निकलने की भी समस्या हो सकती है।

4 उच्‍च रक्‍तचाप होने पर सिर चकराना, थकान और सुस्ती जैसे लक्षणों की भी शिकायत हो सकती है।

5 कई बार रात में नींद न आने के साथ दिल की धड़कनों के बढ़ जाने की भी समस्या होती है।




और भी पढ़ें :