Coronavirus: एक डोज के बाद संक्रमण हो जाए तो क्‍या दूसरा डोज मिलेगा, क्‍या कहते हैं डॉक्‍टर

Last Updated: गुरुवार, 15 अप्रैल 2021 (15:40 IST)
देश मे कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे है और साथ ही भारत के कोरोना टीकाकरण भी काफी तेज़ी से चल रहा है।
भारत मे 10 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन डोज दी जा चुकी है। लेकिन इस बीच कुछ ऐसे भी केस सामने आए है जिसमें वैक्सीन की एक डोज लगने के बाद मरीज संक्रमित हो गया या फिर दोनों डोज़ लगी है लेकिन बावजूद इसके वो संक्रमित हो गया।

सवाल उठा था कि जिसे पहली डोज मिली है और वो संक्रमित हुआ है तो क्या उसे दूसरी डोज मिलेगी और कब मिलेगी। वहीं क्‍या वैक्सीन लगने बाद भी कोई संक्रमित हो सकता है।

मीड‍िया में आई रिपोर्ट के मुताबिक नीति आयोग के स्वास्थ्य सदस्य डॉ वी के पॉल ने बताया कि अगर किसी को पहली वैक्सीन लगी है और उसे कोविड संक्रमण होता है तो उसे भी वैक्सीन की दूसरी डोज मिलेगी। डॉ पॉल के मुताबिक अगर ऐसा होता है तो उस व्यक्ति को संक्रमण से ठीक होने के 12 हफ्ते बाद दूसरी डोज मिलेगी।

उनका कहना है कि अगर किसी व्यक्ति को कोविड होता है हमारी जनरल गाइडलाइन है उसके ठीक होने के तीन महीने बाद यानी 12 हफ्ते के बाद वैक्सीन लगाना चाहिए। कोविड संक्रमित व्यक्ति को वैक्सीन लगाना चाहिए ये हमारे गाइडलाइन में स्‍पष्‍ट है।

जाहिर है पहले डोज़ के बाद कोई संक्रमित हो भी जाए तो उसे दूसरी डोज मिलेगी। उसे वापस पहला और फिर से दूसरा डोज लेने की जरूरत नहीं है। वहीं किसी को दोनों डोज लगने के बाद भी कोरोना संक्रमण हो सकता है। इस पर उन्होंने साफ कहा कि किसी भी वैक्सीन से 100 प्रतिशत सुरक्षा नहीं मिलती है। अगर किसी को हो भी जाए तो भी संक्रमण से गंभीर रूप से बीमार नहीं होगा।

दरअसल, डॉक्‍टरों का क‍हना है कि वैक्सीन मिलने के बाद कोविड के लक्षण आए या टेस्ट पॉजिटिव हो गया तो वैक्सीन के बाद जो प्रोटेक्शन है वो 100 प्रतिशत नहीं होती। हमे उसके बाद भी कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर का पालन करना होगा। हो सकता है की आपको वैक्सीन मिलने के बाद भी संक्रमण हो लेकिन वैक्सीन के बाद होने वाले गंभीर इन्फेक्शन नहीं होगा।



और भी पढ़ें :