कोरोना का असर :168 साल में पहली बार सिंधिया रामघाट पर करेंगे बाबा महाकाल की शाही सवारी की पूजा

अब तक गोपाल मंदिर में होती थी सिंधिया घराने की पूजा

Author विकास सिंह| पुनः संशोधित सोमवार, 17 अगस्त 2020 (09:16 IST)
भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया आज शाम उज्जैन में बाबा महाकाल की शाही सवारी का
पारंपरिक पूजन करेंगे। हर साल सिंधिया घराने की तरफ से होने वाली बाबा महाकाल की शाही सवारी के पूजन करने के लिए दोपहर बाद सिंधिया उज्जैन पहुंचेंगे।
कोरोना संक्रमण के चलते इस बार सिंधिया घराने की बाबा गोपाल मंदिर के बजाया पर होगा। कोरोना के चलते बाबा महाकाल की शाही सवारी बदलने हुए मार्ग से निकाली जा रही है जिसके रूट में साक्षी गोपाल मंदिर शामिल नहीं है। इसलिए ज्योतिरादित्य सिंधिया बाबा महाकाल का पूजन रामघाट पर करेंगे।
तय कार्यक्रम के मुताबिक सिंधिया शाम 3.55 मिनट पर गोपाल मंदिर के दर्शन करने के लिए पहुंचेगें। इसके बाद शाम 4.25 रामघाट पर पहुंचकर बाबा महाकाल की शाही सवारी का पूजन करेंगे। कोरोनावायरस के संक्रमण के चलते इस बार बाबा महाकाल की शाही सवारी में श्रद्धालुओं को शामिल होने की अनुमति नहीं दी गई है।

सिंधिया घराने ने गोपाल मंदिर का निर्माण 1852 में कराया था। इसके बाद से ही सावन-भादौ में निकलने वाली शाही सवारी का पूजन गोपाल मंदिर में करने की परंपरा शुरु हई थी। कोरोना संक्रमण के चलते 168 साल में ऐसा पहली बार होगा कि सिंधिरा घराने की पारंपरिक पूजा गोपाल मंदिर की बजाय रामघाट पर होगी।







और भी पढ़ें :