Sun transit in sagittarius 2021 : सूर्य धनु राशि में कब से कब तक, जानिए किसकी खुलेगी किस्मत

Dhanu Sankranti 2021
Dhanu Sankranti 2021
Last Updated: गुरुवार, 16 दिसंबर 2021 (10:41 IST)
हमें फॉलो करें
: सूर्यदेव आज वृश्‍चिक राशि से निकलकर धनु राशि में गोचर करने लगेंगे, जहां वे एक माह तक विराजमान रहेंगे। इस दौरान सभी 12 राशियों पर उनका प्रभाव रहेगा। ऐसे में आओ जानते हैं कि सूर्यदेव कब से कब तक धनु राशि में रहेंगे और किन राशि वालों की खुल जाएगी किस्मत।


सूर्य धनु राशि में कब से कब तक : 16 दिसंबर 2021 को सूर्य का वृश्‍चिक राशि से प्रातः 3 बजकर 28 मिनट पर धनु राशि में प्रवेश होगा। यह राशि सूर्य की मित्र राशि है। सूर्य इस राशि में ( ) 14 जनवरी 2022 को दोपहर 2 बजकर 29 मिनट तक रहने के बाद मकर राशि में गोचर करेगा। आइए जानते हैं कि धनु राशि में सूर्य के गोचर का सभी 12 राशियों पर क्या प्रभाव पड़ेगा।

खुल जाएगी इनकी किस्मत : मेष, सिंह, धनु, कुंभ और मीन।


मेष राशि (Aries): आपकी राशि में सूर्य नवम भाव में गोचर करेगा। यह भाग्य का भाव है अत: आपको इस समय भाग्य का भरपूर साथ मिलेगा। आर्थिक दृष्‍टि से यह समय शुभ है। नौकरी में भी सकारात्मक परिणाम निकलेंगे। व्यापार में लाभ होगा। तीर्थ यात्रा के योग बन रहे हैं। परिवार में भी अच्छा माहौल रहेगा।

वृषभ राशि (Taurus): आपकी राशि में सूर्य का गोचर अष्टम भाव में होगा। इस दौरान नौकरी में थोड़ी बहुत परेशानी होगी हालांकि व्यापार ठीक चलेगा। नौकरी की तलाश कर रहे हैं तो प्रस्ताव मिलेंगे। यात्रा के योग बन रहें हैं। परिवार में माता का ध्यान रखना होगा। आर्थिक रूप से यह समय सामान्य है। कोर्ट कचहरी के मामलों का सामना करना पड़ सकता है।
मिथुन राशि (Gemini): आपकी राशि में सूर्य सप्तम भाव में गोचर करेगा जिसके चलते दांपत्य जीवन में वाद-विवाद हो सकता है। हालांकि नौकरीपेशा जातकों के लिए यह गोचर शुभ है और व्यापरियों को सफलता मिलेगी। सेहत को लेकर यह गोचर ठीक नहीं है। करियर की दृष्‍टि से यह गोचर शुभ है।
कर्क राशि (Cancer): आपकी राशि में सूर्य छठे भाव में गोचर करेगा। आपके विरोधी परास्त होंगे। न्यायालय में भी विजयी होगी। करियर में सफलता मिलेगी। नौकरी और व्यापार में सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेगें। आपको अपनी पत्नी और बच्चों की सेहत पर ध्यान देना होगा।

सिंह राशि (Lion): आपकी राशि के पंचम भाव में सूर्य गोचर करेगा। इस गोचर से भाग्य का भरपूर साथ मिलेगा। पूर्व में की गई मेहनत का फल मिलेगा। करियर में सफलता मिलेगी। नौकरी और व्यापार में सकारात्मक परिणाम हासिल होंगे। परिजनों से आपको मधुर संबंध बनाए रखने की जरूरत है और उनकी सेहत का ध्यान रखने की आपकी जिम्मेदारी है।
कन्या राशि (Virgo): आपकी राशि के चतुर्थ भाव में सूर्य गोचर करेगा। यह गोचर नौकरी और व्यापर के लिहाज से सही है परंतु परिवार में वाद विवाद की स्थिति बनेगी। आपका स्वभाव क्रोधी हो जाएगा। आप अनावश्यक रूप से मानसिक तनाव लेंगे। आपको अपनी सेहत का भी विशेष ध्यान रखना होगा। यात्रा के भी योग बन रहे हैं।

तुला राशि (Libra): आपकी राशि के तीसरे भाव में सूर्य का गोचर होगा। आपके विरोधी परास्त होंगे। नौकरी और व्यापार में धन लाभ के योग हैं। आपको अपने पिता की सेहत का ध्यान रखने की जरूरत है। परिवावार में भाई बहनों का समर्थन प्राप्त होगा। सेहत भी ठीक रहेगी।
वृश्चिक राशि (Scorpio): आपकी राशि में सूर्य का द्वितीय भाव में गोचर होगा। आपके व्यापार या पेशे से में लाभ अर्जित होगा। नौकरी में आपकी मेहनत रंग लाएगी। आपको पैतृक संपत्ति से भी लाभ मिलने की संभावना है। हालांकि कुछ मामलों में धन संबंधी मामलों के कारण मानसिक रूप से तनाव रहेगा।

धनु राशि (Sagittarius): आपकी राशि के प्रथम भाव में सूर्य का गोचर शुभ है। इस दौरान आपका स्वभाव विनम्र रहेगा। नौकरी में पदोन्नति हासिल हो सकती है और व्यपार में उन्नती होगी। परिवार में भी माहौल अच्छा रहेगा। हालांकि इस गोचर के दौरान आपको अपनी सेहत का ध्यान रखने की जरूरत है।

मकर राशि (Capricorn): आपकी राशि के बारहवें भाव में सूर्य का गोचर होगा। इस दौरान खर्चे बढ़ जाएंगे। नौकरी में आप नेतृत्व करने की भूमिका में रहेंगे। व्यापार में सकारात्मक परिणाम हासिल होंगे। आपको नींद न आना, आंखों की रोशनी और पेट से संबंधित समस्याओं से पीड़ा मिल सकती है। पिता की सेहत का ध्यान रखना होगा। परिवार में माहौल अच्‍छा रहेगा।

कुंभ राशि (Aquarius): आपकी राशि के एकादश भाव में सूर्य का गोचर होगा। यह गोचर नौकरी और व्यपार में लाभ देने वाला सिद्ध होगा। परिवार में अच्छा माहौल रहेगा। आपकी सेहत भी अच्‍छी रहेगी।
मीन राशि (Pisces): आपकी राशि के दशम भाव में सूर्य का गोचर रहेगा। व्यापर में लाभ के साथ प्रसिद्धि मिलने की संभावना है। नौकरी में अधिनस्थों से आलोचना का सामना करना पड़ेगा। हालांकि नौकरी के अच्छे प्रस्ताव भी मिलेंगे। आपको परिजनों का सहयोग मिलेगा। आपको अपनी सेहत का विशेष ध्यान रखना होगा।



और भी पढ़ें :