रक्षाबंधन 2022 : 4 महायोग में मनेगी राखी, जानिए 11 और 12 अगस्त के शुभ संयोग

Last Updated: शुक्रवार, 5 अगस्त 2022 (11:03 IST)
हमें फॉलो करें
Raksha bandhan 2022 : श्रावण मास की पूर्णिमा तिथि के दिन श्रवण नक्षत्र के दौरान ही रक्षा बंधन मनाया जाता है। 11 अगस्त 2022 को भद्रा रहेगी लेकिन उसका वास पाताल में होने के कारण यह शुभ है, फिर भी कुछ लोग 12 अगस्त को राखी का त्योहार मनाएंगे। आओ जानते हैं दोनों ही दिनों के शुभ मुहूर्त और संयोग।

पूर्णिमा तिथि प्रारंभ : 11 अगस्त को सुबह 10:38 से प्रारंभ।
पूर्णिमा तिथि समाप्त : 12 अगस्त को सुबह 7 बजकर 5 मिनट पर समाप्त।

रक्षा बंधन 11 अगस्त शुभ योग-संयोग- Raksha Bandhan Shubh:

1. रवि योग : रवि योग सुबह 05:30 से 06:53 तक रहेगा।
2. आयुष्मान योग : 10 अगस्त 07:35 से 11 अगस्त दोपहर 03:31 तक।
3. सौभाग्य योग : 11 अगस्त को दोपहर 03:32 से 12 अगस्त सुबह 11:33 तक।
4. शोभन योग : घनिष्ठा नक्षत्र के साथ शोभन योग भी लगेगा।

पांच महायोग : रवि योग, आयुष्मान योग, सौभाग्य योग और अभिजीत मुहूर्त।

11 अगस्त रक्षा बंधन के शुभ मुहूर्त- Raksha Bandhan Shubh Muhurta 2022:

- अभिजीत मुहूर्त : सुबह 11:37 से 12:29।
- विजय मुहूर्त : दोपहर 02:14 से 03:07 तक।
- गोधूलि मुहूर्त : शाम 06:23 से 06:47 तक।
- सायाह्न संध्या मुहूर्त : शाम 06:36 से 07:42 तक।
- अमृत काल मुहूर्त : शाम 06:55 से 08:20 तक।
चार महायोग : रवि योग, आयुष्मान योग, सौभाग्य योग और अभिजीत मुहूर्त।
12 अगस्त के :
सौभाग्य योग : सुबह 11:33 तक सौभाग्य योग।
शोभन योग : 11:33 के बाद पूरे दिन शोभन योग।

12 अगस्त के शुभ मुहूर्त :
- तिथि : 12 अगस्त 2022 को पूर्णिमा तिथि सुबह 7 बजकर 5 मिनट तक उसके बाद प्रतिपदा।
- अभिजीत मुहूर्त : सुबह 11:37 से 12:29 तक।
- विजय मुहूर्त : दोपहर 02:14 से 03:06 तक।
- अमृत काल मुहूर्त : शाम 04:17 से 05:43 तक।
- गोधूलि मुहूर्त : शाम 06:23 से 06:47 तक।
- सायाह्न संध्या मुहूर्त : शाम 06:36 से 07:41 तक।

नोट : 12 अगस्त को उदय तिथि पूर्णिमा त्रिमुहूर्त व्यापनी नहीं हैं। शास्त्रों के अनुसार इस कारण उस दिन यह त्यौहार नहीं मनाया जाएगा। रक्षाबंधन का पर्व 11 अगस्त को ही मनाया जाएगा।



और भी पढ़ें :