1. खेल-संसार
  2. »
  3. अन्य खेल
  4. »
  5. समाचार
  6. पेस के बाद मिर्नी सफल जोड़ीदार रहे हैं भूपति के
Written By भाषा
पुनः संशोधित मंगलवार, 1 दिसंबर 2009 (23:03 IST)

पेस के बाद मिर्नी सफल जोड़ीदार रहे हैं भूपति के

भारतीय टेनिस स्टार महेश भूपति का अगले सत्र से अपने पुराने जोड़ीदार मैक्स मिर्नी के साथ मिलकर खेलने का फैसला सही करार दिया जा सकता है क्योंकि लिएंडर पेस के बाद बेलारूस के इस खिलाड़ी के साथ ही उन्हें अधिक सफलता मिली हैं।

पेस और भूपति दोनों को हालाँकि एक-दूसरे का साथ छोड़ने की कीमत चुकानी पड़ी। इन दोनों ने 1997 से 1999 तक पहले तीन साल में दो ग्रैंड स्लैम सहित 14 एटीपी खिताब अपने नाम किए जबकि मिलकर कुल 23 युगल खिताब जीते।

एक-दूसरे से अलग होने के बाद दोनों को नए जोड़ीदार के साथ तालमेल बिठाने में काफी दिक्कत हुई और यही वजह है कि भूपति 2002 में पेस से जोड़ी टूटने के बाद दस जोड़ीदारों के साथ केवल 21 युगल खिताब ही जीत पाए।

उन्होंने इसके बाद हालाँकि 2004 में एक खिताब पेस के साथ भी जीता। दूसरी तरफ पेस का भी यही हाल रहा और वह भूपति से अलग होकर अन्य जोड़ीदारों के साथ पिछले सात साल में केवल 17 युगल खिताब ही अपने नाम लिखवा पाए।

पेस ने इस बीच तीन ग्रैंड स्लैम खिताब (इस साल जीते गए फ्रेंच और अमेरिकी ओपन सहित) जीते लेकिन भूपति ने अंतिम ग्रैंड स्लैम युगल खिताब 2002 में मिर्नी के साथ अमेरिकी ओपन के रूप में जीता था।

भूपति को पेस के बाद सबसे अच्छा जोड़ीदार मिर्नी के रूप में ही मिला। उन्होंने बेलारूस के लंबे कद के इस खिलाड़ी के साथ एक ग्रैंड स्लैम सहित छह खिताब अपने नाम लिखवाए। उन्होंने 2002 सत्र के बीच में पेस से जोड़ी टूटने के बाद मिर्नी को अपना जोड़ीदार बनाया और उनके साथ अमेरिकी ओपन के रूप में पहला खिताब जीता।

इसके बाद इस जोड़ी ने 2003 में पाँच एटीपी युगल खिताब हासिल किए और विम्बलडन के फाइनल में भी पहुँचे लेकिन मिर्नी इसके बाद एकल पर अधिक ध्यान देने लगे और उन्होंने युगल में खेलना कम कर दिया, जिससे भूपति को नया जोड़ीदार ढूँढना पड़ा।

उन्होंने 2004 में फैब्राइस सांतोरो के साथ दो तथा मिर्नी, योनास ब्योर्कमैन और पेस के साथ एक एक खिताब अपने नाम लिखवाया।

भूपति को अदद जोड़ीदार नहीं मिलने के कारण आगे के वर्षो में खिताब हासिल करने के लिए जूझना पड़ा। उन्होंने 2005 में केवल एक खिताब (टॉड वुडव्रिज के साथ सिडनी इंटरनेशनल) जबकि 2006 और 2007 में तीन जोड़ीदारों के साथ दो-दो टूर्नामेंट में खिताबी जीत दर्ज की।

बेंगलुरु के इस खिलाड़ी ने 2008 में मार्क नोल्स के साथ जोड़ी बनाई और बहामास के इस खिलाड़ी के साथ उन्होंने अच्छा सामंजस्य भी बनाया। उन्होंने 2008 में नोल्स के साथ तीन खिताब हासिल किए, लेकिन 2009 में यह जोड़ी केवल एक खिताब ही जीत पाई।

भूपति और नोल्स इस वर्ष ऑस्ट्रेलियाई और अमेरिकी ओपन के फाइनल में पहुँचे लेकिन दोनों ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट में उन्हें उप विजेता बनकर ही संतोष करना पड़ा। भूपति ने हाल में लंदन के खेले गए विश्व ग्रुप फाइनल्स के बाद नोल्स से जोड़ी तोड़ने और अगले सत्र में मिर्नी से जोड़ी बनाने का फैसला किया। (भाषा)