युवा प्रतिद्वंद्वियों से प्रेरणा लेते हैं फेडरर

मेलबोर्न| भाषा| पुनः संशोधित सोमवार, 1 फ़रवरी 2010 (18:09 IST)
हमें फॉलो करें
के बादशाह रोजर फेडरर ने कहा है कि एंडी मरे जैसे युवा प्रतिद्वंद्वियों से प्रेरणा लेकर उन्होंने खोया फॉर्म फिर से हासिल किया।


फेडरर का मानना है कि उन्होंने इस साल में उन्होंने जो खेल दिखाया, वह उनके सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन में से एक है। फेडरर ने मरे को हराकर चौथा ऑस्ट्रेलियन ओपन जीता, जो उनका 16वाँ ग्रैंड स्लैम खिताब है।

एक समय में स्पेन के राफेल नडाल के सामने संघषर्रत दिखे फेडरर ने फिर पुरानी लय दिखाते हुए विश्व टेनिस में अपनी बादशाहत साबित कर दी। फेडरर ने कहा कि उनके प्रतिद्वंद्वियों के स्तर में लगातार सुधार हो रहा है, जिससे उन्हें भी बेहतर खिलाड़ी के रूप में उभरने की प्रेरणा मिली।

उन्होंने कहा कि नई पीढ़ी ने मुझे अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित किया। मेरा मानना है कि हर पाँच साल में टेनिस बदल जाता है क्योंकि मैंने जब शुरुआत की थी तो खेल का स्वरूप कुछ अलग था। (भाषा)



और भी पढ़ें :