फेडरर को बुलंदी छूने की उम्मीद

न्यूयॉर्क (भाषा) | भाषा| पुनः संशोधित सोमवार, 1 सितम्बर 2008 (22:31 IST)
दुनिया के पूर्व नंबर एक एक बार फिर अजेय बनने को बेताब हैं और उन्होंने कहा कि लगातार पाँचवाँ अमेरिकी ओपन खिताब उन्हें एक बार फिर शिखर पर पहुँचा सकता है।


बारह बार के ग्रैंडस्लैम चैम्पियन ने तीसरे दौर में चेकगणराज्य के राडेक स्टेपनेक को सीधे सेटों में 6-3, 6-3, 6-2 से हराकर अमेरिकी ओपन में लगातार 30वीं जीत दर्ज की। फेडरर ने कहा कि पहले तीन दौर में मैंने अच्छी सर्विस की और यह हमेशा बाकी बचे टूर्नामेंट के लिए अच्छा संकेत होता है।

फेडरर दुनिया के नंबर एक राफेल नडाल से विम्बलडन और फ्रेंच ओपन के फाइनल में हार गए थे जिससे रिकॉर्ड 237 हफ्ते तक शीर्ष पर रहने के बाद उन्होंने अपना ताज गँवा दिया था। लेकिन स्विट्जरलैंड के इस खिलाड़ी को लगता है कि ग्रैंडस्लैम में एक और खिताबी जीत फेड एक्सप्रेस को फिर पटरी पर ले आएगी।

उन्होंने कहा कि मुझे ऐसा लगता है। मुझे यही फायदा है। अगर मैं एक बड़ा टूर्नामेंट जीत लेता हूँ तो मैं फिर अजेय बन सकता हूँ। फेडरर ने कहा कि मेरी नजरें इसी पर टिकी हैं। मैंने विम्बलडन में लगभग ऐसा कर लिया था। मैं काफी करीब था। मैं इस बार एक कदम और आगे बढ़कर जीतने की उम्मीद है। इससे निश्चित तौर पर बाकी बचे साल में लय कायम करने में मदद मिलेगी।



और भी पढ़ें :