सोमदेव ने बाकी प्रतिद्वंद्वियों को भी चेताया

चेन्नई (भाषा)| भाषा| पुनः संशोधित गुरुवार, 8 जनवरी 2009 (22:49 IST)
पूर्व फ्रेंच ओपन चैम्पियन कार्लोस मोया को चेन्नई ओपन के दूसरे दौर में हराकर अपने करियर की सबसे बड़ी जीत दर्ज करने वाले भारतीय टेनिस स्टार सोमदेव देवबर्मन ने गुरुवार को बाकी प्रतिद्वंद्वियों को भी ताकीद की कि उन्हें यहाँ हरा पाना बहुत मुश्किल है।


सोमदेव ने कहा मैं फ्लोयड मेवेदर की तरह जवाबी हमले में भरोसा करता हूँ। मैं जल्दी हार नहीं मानता। मुझे हराने के लिए काफी मशक्कत करनी होगी। मैं ऐसा ही टेनिस खेलना चाहता हूँ।

उन्होंने मैच के बाद कहा मैं मानसिक रूप से मजबूत रहना चाहता हूँ। विरोधियों के तमाम वार झेलने को मैं तैयार हूँ। मैं ऐसा ही खिलाड़ी बनना चाहता हूँ।

अमेरिका में दो बार कॉलेज चैम्पियन रहे सोमदेव ने कहा कि मोया को हराने के बाद भी वह चुप नहीं बैठने वाले हैं और क्वार्टर फाइनल में इवो कार्लोविच को पटखनी देंगे।


उन्होंने कहा मैं क्वार्टर फाइनल में पहुँचकर ही संतोष करने वालों में से नहीं हूँ। मैं आत्ममुग्ध नहीं हूँ। मैं इसे एक आम मैच की तरह ही लूँगा। मुझे कार्लोविच के खिलाफ रणनीति बनानी होगी।
मैच के निर्णायक मोड़ के बारे में उन्होंने कहा तीसरे सेट के दूसरे गेम में मैं 0-40 से पीछे था, जिसके बाद मैंने वाकई अच्छा प्रदर्शन किया। मैंने उसे कुछ गलतियाँ करने को मजबूर किया।

सोमदेव ने स्वीकार किया कि मोया के खिलाफ उतरते समय पहले उन्हें बेचैनी हो रही थी, लेकिन उन्होंने अपनी शैली नहीं बदली। उन्होंने कहा कि मैंने पूरी शिद्दत से वापसी की। सही समय पर सही रणनीति अपनाई। पहले थोड़ा डर था क्योंकि सामने कार्लोस मोया थे।
उन्होंने कहा पहले बेसलाइन पर कुछ अंक बनाने के बाद मेरा खुद पर भरोसा बढ़ता गया। मुझे कुछ अतिरिक्त प्रयास नहीं करना पड़ा। मैंने अपना स्वाभाविक खेल ही दिखाया।

जल्दी ही शीर्ष 100 में पहुँचेगा सोमदेव : स्पेन के टेनिस स्टार कार्लोस मोया ने चेन्नई ओपन में सोमदेव देवबर्मन के बेहतरीन खेल पर हैरानी जताते हुए कहा कि भारत का यह उदीयमान सितारा जल्दी ही शीर्ष 100 में पहुँचेगा।
सोमदेव ने दो बार के चैम्पियन कार्लोस मोया को हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई, जहाँ उनका सामना क्रोएशिया के इवो कार्लोविच से होगा।

मोया ने अप्रत्याशित पराजय के बाद पत्रकारों से कहा वह विशुद्ध भारतीय शैली का टेनिस नहीं खेलता है। उनका खेल सर्व और वॉली का है और वह अच्छी ऐस लगाता है। उसमें निकट भविष्य में शीर्ष सौ में पहुँचने का माद्दा है।
उन्होंने कहा मैंने दो दिन पहले उसे खेलते देखा। वह कोर्ट पर काफी तेजी से दौड़ता है और गेंद को बखूबी पीटता है। मेरे लिए यह हैरानी की बात थी।



और भी पढ़ें :