एकाग्र नहीं थे युकी भांबरी: कप्तान

चंडीगढ़| भाषा|
PTI
के जोस स्टैथम के खिलाफ युकी भांबरी की संघषर्पूर्ण जीत से के गैरखिलाड़ी कप्तान एसपी मिश्रा प्रभावित नहीं हैं। उन्होंने कहा कि टेनिस रेलीगेशन प्लेआफ मुकाबले के चौथे मैच में देश का सर्वश्रेष्ठ एकल खिलाड़ी युकी एकाग्र नहीं लग रहे थे। युकी ने सीएलटीए मैदान पर दो घंटे और 41 मिनट चले एशिया ओसियाना ग्रुप एक मैच में कई मौके गंवाए।

न्यूजीलैंड का 5-0 से व्हाइटवॉश करने के बाद मिश्रा ने कहा हैरानी की बात है कि वह एकाग्र नहीं थे। वह सिर्फ टुकड़ों में अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे। मिश्रा हालांकि इस 20 वर्षीय खिलाड़ी के खेल में एकाग्रता की कमी से अधिक चिंतित नहीं है और उन्होंने उम्मीद जताई कि युकी मजबूत वापसी करेंगे।

उन्होंने कहा उज्बेकिस्तान के खिलाफ युकी मजबूत नजर आ रहे थे। शायद नंबर एक खिलाड़ी होने के कारण मानसिक तौर पर उन्हें परेशानी हुई लेकिन वह वापसी करेंगे, मुझे पूरा भरोसा है। मिश्रा टीम के प्रदर्शन से खुश हैं।
उन्होंने कहा भारतीय खिलाड़ियों ने अच्छी तैयारी की थी। उनका ध्यान अपने काम पर केंद्रित था। उन्होंने इस मुकाबले में अच्छा प्रदर्शन किया। परिस्थितियों के भारतीय टीम के अनुकूल होने की उम्मीद की जा रही थी लेकिन मेजबान टीम को गर्म मौसम के कारण परेशानी का सामना करना पड़ा। युकी को आज मुश्किलों का सामना करना पड़ा और उनकी मांसपेशियों में भी खिंचाव आ गया था लेकिन इसके बाद वह 2-6, 7-5, 7-6 से जीत दर्ज करने में सफल रहे।

मिश्रा का मानना है कि हालात मुश्किल थे लेकिन उनके खिलाड़ी इससे कीवी खिलाड़ियों की तुलना में बेहतर तरीके से निपटे। भारत को सीधे सेटों में पहली जीत दिलाने वाले सनम सिंह ने कहा कि पहले दिन युकी का खेल उम्मीद के मुताबिक नहीं था। यह खेलने के लिए आसान हालात नहीं हैं लेकिन युकी ने आज अच्छी जीत दर्ज की।
सनम ने अपने मुकाबले के बारे में कहा मैं काफी खुश हूं। पहले सेट में मुझे मौके मिले। दूसरे में मैंने मौके बनाए। स्थानीय खिलाड़ी सनम ने कहा कि सीएलटीए पर हालात अधिक चुनौतीपूर्ण थे। मैं यहां खेलते हुए बड़ा हुआ हूं। इस बार सबसे अधिक गर्मी थी, विशेषकर सितंबर में। गर्मी से अधिक मुश्किल उमस के कारण हुई।
युकी ने कहा कि वह अपने प्रदर्शन से संतुष्ट नहीं हैं और इस जीत के लिए उन्हें कड़ी मेहनत करनी पड़ी। उन्होंने कहा मैं यह नहीं कहूंगा कि मैं खुश हूं लेकिन मुझे इस बात की खुशी है कि भारत मुकाबला जीत गया। निश्चित तौर पर मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ टेनिस नहीं खेला। कोच नंदन बल ने हालांकि युकी का समर्थन करते हुए कहा कि उसकी फिटनेस अहम साबित हुई। (भाषा)



और भी पढ़ें :