राष्ट्रीय खेलों में लगा बॉलीवुड का तड़का

राँची| भाषा|
IFM
IFM
में आयोजित चौतीसवें राष्ट्रीय खेलों का 14 दिनों तक कुल 33 स्पर्धाओं में चले जबर्दस्त मुकाबलों के बाद अनोखी आतिशबाजी के बीच रंगारंग भव्य समापन हो गया।

शनिवार को हुए समापन समारोह में अगले राष्ट्रीय खेलों के मेजबान केरल, मणिपुर और झारखंड के नृत्यों के अलावा पंजाब का भांगड़ा भी हुआ जबकि अंत में के सितारे गायक ओर अभिनेत्री और क्लाडिया ने बॉलीवुड का तड़का भी लगाया। कार्यक्रम इतना शानदार था कि दर्शक घंटों तक झूमते रहे और सीटियाँ और तालियाँ बजाते रहे।

शाम पाँच बजे सबसे पहले हेलिकॉप्टर से पुष्पवर्षा हुई और फिर भारतीय वायुसेना के जांबाजों ने शानदार पैरा जंपिंग की जिससे लगभग चालीस हजार दर्शकों से खचाखच भरा पूरा स्टेडियम रोमांचित हो गया।

इसके बाद 34वें राष्ट्रीय खेलों के समापन समारोह में झारखंड, मणिपुर और पंजाब के लोक कलाकारों ने अपने मनमोहक कार्यक्रम प्रस्तुत किए।
जहाँ झारखंडी कलाकारों के नृत्य पर झारखंड के लोग ही नाचते गाते देखे गये वहीं जब पंजाब के लोक कलाकारों ने भांगडा किया तो छह हजार से अधिक खिलाडी और पूरा स्टेडियम उनके साथ नाचते गाने लगा।

अंत में 35वें राष्ट्रीय खेलों के मेजबान केरल के 180 कलाकारों के समूह ने राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार विजेता निर्देशक श्यामा प्रसाद के निर्देशन में केरल की कला और संस्कृति का मनमोहक प्रदर्शन किया जिसमें मोहनी अटटम स्नेक बोट रेस और पारंपरिक युद्ध कौशल सब कुछ शामिल था।
कार्यक्रम के अंत में बॉलीवुड के गायक शान आकाश मार्ग से स्टेडियम में उतरते हुए बहती हवा सा था वो, उड़ती पतंग सा था वो.. गाया और जोहार झारखंड का नारा लगाया तो स्टेडियम में मौजूद चालीस हजार से अधिक लोग अपने स्थानों पर खड़े होकर नाचने गाने लगे।

अंत में शीला की जवानी की प्रसिद्धि वाली नायिका कैटरीना कैफ ने अपना जलवा बिखेरा। एक मयूर रथ पर सवार होकर जब उन्होंने स्टेडियम में प्रवेश किया तो लोग 'शीला-शीला' कह उठे।
बाद में कैटरीना ने कई गानों पर अपने ग्रुप केसाथ मदहोश करने वाले ठुमके लगाये जिसकेसाथ दर्शकों ने भी जमकर ठुमके लगाए और आनंद लिया। कार्यक्रम रात्रि लगभग साढ़े दस बजे तक चला और कैटरीना के कार्यक्रम के बाद शानदार आतिशबाजी के साथ कार्यक्रम संपन्न हुआ।

कार्यक्रम के उद्धाटन की ही भाँति इसके समापन में भी राज्य के मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ही मुख्य अतिथि थे जबकि भारतीय ओलिंपिक संघ के अघ्यक्ष सुरेश कलमाड़ी और झारखंड ओलिंपिक संघ के कार्यकारी अध्यक्ष आर के आनंद भी मंच पर मौजूद थे। इनके अलावा केन्द्रीय पर्यटन मंत्री सुबोधकांत सहाय, विधानसभा अध्यक्ष सीपीसिंह, उप मुख्यमंत्री और खेल मंत्री सुदेश महतो, दूसरे उप मुख्यमंत्री और वित्त मंत्री हेमंत सोरेन भी उपस्थित थे। (भाषा)



और भी पढ़ें :