शेयर बाजार के लिए भी अहम हैं चुनाव

मुंबई (भाषा)| भाषा| पुनः संशोधित रविवार, 8 मार्च 2009 (21:34 IST)
इन गर्मियों में होने वाले आम देश में नई सरकार का ही फैसला नहीं करेंगे, बल्कि वे शेयर बाजारों की भावी दिशा और दशा भी तय करेंगे। जाहिर है चुनावों का परिणाम विशेषकर शेयर बाजारों के लिए बहुत मायने रखता है।

मोर्गन स्टेनली के एक निवेशक सर्वेक्षण में यह निष्कर्ष निकाला गया है। इसमें कहा गया है कि इस साल भारतीय शेयर बाजारों की दिशा तय करने में आम चुनाव दूसरा सबसे महत्वपूर्ण कारक होगा। आम चुनाव के परिणामों से अधिक महत्वपूर्ण वैश्विक बाजारों का रुख होगा।

सर्वे में कहा गया है कि चुनाव परिणाम कॉरपोरेट बुनियाद तथा देश की राजकोषीय एवं मौद्रिक नीति से भी अधिक मायने रखेंगे। विशेषज्ञ तथा ब्रोकरेज फर्में भी मानती हैं कि आम चुनाव शेयर बाजारों की भावी दिशा तय करने में महत्वपूर्ण होंगे।
आम चुनावों में अनुमानतः 10 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे और इन्हें अर्थव्यवस्था के लिए प्रोत्साहन के रूप में देखा जा रहा है।



और भी पढ़ें :