1. खबर-संसार
  2. »
  3. शेयर बाजार
  4. »
  5. समाचार
  6. निवेशकों को 20 हजार अरब का घाटा
Written By भाषा
पुनः संशोधित बुधवार, 1 अप्रैल 2009 (18:41 IST)

निवेशकों को 20 हजार अरब का घाटा

वैश्विक आर्थिक मंदी के कारण शेयर बाजारों के लड़खड़ाने से वित्त वर्ष 2008-09 में निवेशकों को करीब 20 हजार अरब रुपए का नुकसान हुआ। इस दौरान सबसे ज्यादा झटका रिलायंस इंडस्ट्रीज को लगा।

देश में सूचीबद्ध सभी कंपनियों का कुल बाजार पूँजीकरण वित्त वर्ष 2008-09 के आखिरी दिन तक घटकर 30 लाख 86 हजार 75 करोड़ रुपए पर आ गया, जबकि 31 मार्च 2008 को यह बाजार पूँजीकरण 49 लाख 72 हजार 953.37 करोड़ रुपए था।

इस तरह एक वित्त वर्ष के दौरान निवेशकों को 18 लाख 86 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ। देश की सबसे मूल्यवान कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने समीक्षाधीन अवधि में करीब 89460 करोड़ रुपए का नुकसान उठाया। वास्तव में बम्बई स्टॉक एक्सचेंज के सेंसेक्स को 31 मार्च 2009 को समाप्त हुए वित्त वर्ष में करीब 10 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

सेंसेक्स का बाजार पूँजीकरण घटकर 15 लाख 7741.84 करोड़ रुपए पर आ गया, जबकि 31 मार्च 2008 को यह 24 लाख 29 हजार 600 करोड़ रुपए था। इस प्रकार से सेंसेक्स में शामिल 30 कंपनियों के 9 लाख 21 हजार 859 करोड़ रुपए बाजार से साफ हो गए।