मशहूर मलयाली कवि रामकृष्णन नहीं रहे

तिरुवनंतपुरम (भाषा) | भाषा| पुनः संशोधित सोमवार, 31 मार्च 2008 (14:23 IST)
प्रसिद्ध मलयाली कवि और पूर्व विधायक के. रामकृष्णन का आज लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वे 73 वर्ष के थे। उनके परिवार में उनकी पत्नी और दो बच्चे हैं।

पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि रामकृष्णन पिछले कुछ महीनों से अस्पताल में भर्ती थे। मलयालम साहित्य के संवर्धन में उनका महत्वपूर्ण योगदान है।

डाक-तार विभाग से अवकाश प्राप्त करने के बाद वाम समर्थक माने जाने वाले रामकृष्णन 1996 में अरानमूला क्षेत्र से चुनकर केरल विधानसभा में पहुँचे थे। वे माकपा के सांस्कृतिक इकाई के अध्यक्ष भी रहे।



और भी पढ़ें :