एलपीजी सिलेंडरों की संख्या पर इस सप्ताह फैसला

नई दिल्ली| भाषा| पुनः संशोधित मंगलवार, 21 जनवरी 2014 (19:47 IST)
हमें फॉलो करें
FILE
नई दिल्ली। पेट्रोलियम मंत्री एम. वीरप्पा मोइली ने मंगलवार को कहा कि सब्सिडी वाले की संख्या प्रति परिवार 9 से बढ़ाकर 12 करने के प्रस्ताव पर मंत्रिमंडल इस सप्ताह विचार कर सकता है।


उपाध्यक्ष राहुल गांधी के सब्सिडीयुक्त रसोई गैस सिलेंडर की संख्या बढ़ाने की वकालत किए जाने के बाद मोइली ने यह बात कही है।

राष्ट्रीय राजधानी में पेट्रोल पंपों के जरिए बेचे जाने के लिए 5 किलो के रसोई गैस सिलेंडर पेश करते हुए मोइली ने कहा, हमारे उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि सब्सिडीयुक्त प्रति परिवार 9 सिलेंडर पर्याप्त नहीं हैं। इसके बाद मैंने इसका कोटा बढ़ाकर 12 करने के लिए मंत्रिमंडल नोट जारी किया है।

मोइली ने कहा, मुझे लगता है कि मंत्रिमंडल इस सप्ताह प्रस्ताव पर विचार कर सकता है। पिछले सप्ताह अखिल भारतीय कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में गांधी ने कहा कि सब्सिडी वाले की संख्या बढ़ाकर 12 किए जाने की जरूरत है।

मोइली ने कहा कि एलपीजी उपभोक्ताओं की संख्या 15 करोड़ है जिसमें से 89.2 प्रतिशत साल में 9 सिलेंडर तक उपयोग करते हैं और केवल 10 प्रतिशत परिवार बाजार मूल्य पर अतिरिक्त एलपीजी सिलेंडर खरीदते हैं। उन्होंने कहा कि अगर कोटा बढ़ाकर 12 कर दिया जाता है तो 97 प्रतिशत एलपीजी उपभोक्ता सब्सिडीयुक्त एलपीजी सिलेंडर के दायरे में आएंगे।

सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर की सीमा बढ़ाकर 12 किए जाने से 3,300 करोड़ से 4,000 करोड़ रुपए का अतिरिक्त ईंधन सब्सिडी बोझ पड़ेगा। सरकार पहले ही एलपीजी सब्सिडी पर करीब 46,000 करोड़ रुपए सालाना दे रही है।
सरकार ने सब्सिडी बिल में कमी के इरादे से शुरू में सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर की संख्या प्रति परिवार साल में 6 तय की थी। जनवरी 2013 में यह कोटा बढ़ाकर 9 कर दिया गया।

जिन उपभोक्ताओं का सब्सिडी वाला कोटा समाप्त हो जाता है उन्हें 1,258 रुपए प्रति सिलेंडर के बाजार मूल्य पर सिलेंडर खरीदना पड़ता है, जबकि सब्सिडीयुक्त एलपीजी सिलेंडर की लागत दिल्ली में 414 रुपए प्रति सिलेंडर है।
मोइली ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत में तेजी के बावजूद सब्सिडीयुक्त सिलेंडर की कीमत नहीं बढ़ाई गई है। उन्होंने कहा, हम एलपीजी की कुल जरूरत का 40 प्रतिशत आयात करते हैं। मंत्री ने यह भी कहा कि फिलहाल 5 किलो का सिलेंडर 24 शहरों के पेट्रोल पंपों पर उपलब्ध है जिसे पूरे देश में लागू किया जाएगा।

ग्राहक पहचान पत्र साथ ले जाकर 5 किलो का सिलेंडर खरीद सकते हैं। 5 किलो का सिलेंडर पेट्रोल पंपों पर 585 रुपए में उपलब्ध होगा। अभी तक सिलेंडर 13,088 एलपीजी वितरकों या डीलरों के जरिए बेचा जा रहा है, लेकिन अब 5 किलो का सिलेंडर देश के 50,392 पेट्रोल पंपों पर भी उपलब्ध होगा।
मोइली ने कहा कि 5 किलो का सिलेंडर फिलहाल राष्ट्रीय राजधानी के 18 पेट्रोल पंपों पर उपलब्ध होगा। 5 किलो के सिलेंडर से यहां आकर पढ़ाई करने वाले छात्रों, आईटी पेशेवर तथा बीपीओ कर्मचारियों को लाभ होगा।

पहली बार खरीदने पर 5 किलो के सिलेंडर के लिए 1,000 रुपए के साथ कर का भुगतान करना होगा। सिलेंडर रेगुलेटर के लिए 250 रुपए के साथ कुछ कर देने होंगें। शुरुआती शुल्क में सुरक्षा जमा राशि भी शामिल है। (भाषा)



और भी पढ़ें :