प्राकृतिक गैस होगी महंगी, दोगुने होंगे दाम

नई दिल्ली| भाषा| पुनः संशोधित गुरुवार, 27 जून 2013 (22:54 IST)
FILE
नई दिल्ली। सरकार ने आखिर गुरुवार को घरेलू के दाम बढ़ाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। अगले साल अप्रैल से देश में पैदा होने वाली प्राकृतिक गैस के दाम दोगुने हो जाएंगे। इससे बिजली, यूरिया तथा सीएनजी की लागत बढ़ेगी


प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में आज यहां हुई मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति (सीसीईए) की बैठक में सभी तरह की घरेलू गैस के दाम रंगराजन समिति द्वारा सुझाए गए फार्मूले के अनुरूप तय किए जाने को मंजूरी दे दी गई। उच्च पदस्थ सूत्रों ने यह जानकारी दी।
प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद के अध्यक्ष डॉ. सी. रंगराजन समिति ने घरेलू स्तर पर उत्पादित सभी गैस के दाम के लिए जो फार्मूला सुझाया है उसके अनुसार गैस के दाम मौजूदा 4.2 डॉलर से बढ़कर अगले साल अप्रैल में 8.4 डॉलर प्रति 10 लाख मीट्रिक ब्रिटिश थर्मल यूनिट (एमएमबीटीयू) हो जाएंगे।

पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री एम. वीरप्पा मोइली से इस बारे में जब संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा सीसीईए ने गैस के दाम के लिए रंगराजन समिति के फार्मूले को मंजूरी दे दी। यह फार्मूला एक अप्रैल 2014 से लागू होगा और पांच साल के लिए वैध होगा।


गैस के नए दाम सभी तरह की गैस पर समान रूप से लागू होंगे। सार्वजनिक क्षेत्र की ओएनजीसी द्वारा प्रशासनिक मूल्य प्रणाली (एपीएम) वाली गैस हो या फिर रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के केजी बेसिन से निकलने वाली गैस 1 अप्रैल, 2014 से सभी तरह की गैस का मूल्य रंगराजन समिति के फार्मूले के अनुरूप तय होगा। (भाषा)



और भी पढ़ें :