हेयर ने साधा आईसीसी पर निशाना

मेलबोर्न (भाषा)| भाषा|
हमें फॉलो करें
परिषद के 2006 के विवादास्पद का नतीजा ड्रॉ से बदलकर के पक्ष में करने के बाद मैच में अंपायरिंग करने वाले ऑस्ट्रेलिया के अंपायर डेरेल हेयर ने क्रिकेट की संचालन संस्था पर निशाना साधते हुए इसके अधिकारियों पर उनका जीवन बर्बाद करने का आरोप लगाया।


गेंद से छेड़छाड़ के आरोप में हेयर और बिली डाक्ट्रोव के पाँच रन का जुर्माना लगाने के विरोध में ने ओवल टेस्ट के चौथे दिन चाय के बाद मैदान पर उतरने से इनकार कर दिया था।

अंपायरों ने इसके बाद मैच इंग्लैंड के नाम कर दिया, लेकिन पाकिस्तान के विरोध के बाद आईसीसी ने इस मामले की जाँच के लिए न्यायिक अधिकारी नियुक्त किया और पिछले साल मैच का नतीजा बदलकर ड्रॉ करने का फैसला किया।

कुछ समय के लिए अंपायरिंग से प्रतिबंधित किए गए हेयर ने फैसला बदलकर इंग्लैंड के पक्ष में करने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा उन्होंने मेरे जीवन को बर्बाद करने की कोशिश की।


एलीट पेनल से बर्खास्त करने के लिए आईसीसी को अदालत में घसीटने वाले हेयर ने कहा कि आईसीसी के फैसले के बाद आईसीसी के कई अधिकारियों ने इसका फायदा उठाने की कोशिश की और मेरा जीवन काफी मुश्किल कर दिया।
मुझे पता है कि आईसीसी के कई सीनियर अधिकारियों ने जब गेंद देखी तो वे मेरे विचार से सहमत थे कि इसे खुरचा गया है। इसके बावजूद जब बोर्ड ने फैसला किया तो इनमें से कुछ लोग जबरदस्ती मेरे पीछे पड़ गए।

उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि आईसीसी बोर्ड ने बंदूक में गोलियाँ भरीं और क्रिकेट मैनेजर डेव रिचर्डसन तथा मुख्य कार्यकारी मैलकम स्पीड को ट्रिगर दबाने की खुशी थी।


सम्बंधित जानकारी


और भी पढ़ें :