रोंची का शतक, भारत को शुरू में लगा झटका

विशाखापट्टनम| भाषा| पुनः संशोधित गुरुवार, 29 अगस्त 2013 (19:53 IST)
FILE
विशाखापट्टनम। ऑफ स्पिनर जलज सक्सेना के कहर के बावजूद अनुभवी ल्यूक रोंची के आकर्षक शतक की मदद से अच्छा स्कोर खड़ा करने वाले न्यूजीलैंड 'ए' ने पहले तीन दिवसीय अनधिकृत टेस्ट मैच के दूसरे दिन गुरुवार को यहां भारत 'ए' को शुरू में ही एक करारा झटका दिया।


रोंची ने 110 गेंदों पर 16 चौकों और चार छक्कों की मदद से 125 रन बनाए और इस बीच टाड एस्टल (63) के साथ ऐसे समय में 146 रन की साझेदारी की जबकि टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरे न्यूजीलैंड 'ए' का स्कोर छह विकेट पर 106 रन था। इन दोनों की शानदार पारियों से न्यूजीलैंड 'ए' ने अपनी पहली पारी में 310 रन बनाए। सक्सेना ने 106 रन देकर छह विकेट लिए।

भारत 'ए' को दिन के आखिरी क्षणों में तीन ओवर खेलने का मौका मिला जिसमें उसने एक विकेट पर छह रन बनाए। भारतीय टीम ने दूसरे ओवर में ही युवा सलामी बल्लेबाज उन्मुक्त चंद (4) का विकेट गंवा दिया। एस्टल ने अपने पहले ओवर की आखिरी गेंद पर उन्मुक्त को विकेटकीपर डेरेक डि बूर्डर के हाथों कैच कराया। स्टंप उखड़ने के समय जीवनजोत सिंह और नाइटवाचमैन सर्बजीत लाड्डा दोनों एक-एक रन बनाकर खेल रहे थे।
बारिश के कारण कल पहले दिन खेल नहीं हो पाया लेकिन आज मौसम साफ था। न्यूजीलैंड की टीम ने सुबह जब पारी की शुरुआत की तो सक्सेना ने उसके शीर्ष क्रम को झकझोरने में देर नहीं लगाई। उसके चोटी के चार बल्लेबाज अधिक देर तक नहीं टिक पाए।

रोंची और जिम्मी निशाम (27) ने पांचवें विकेट के लिए 50 रन जोड़े। बाएं हाथ के स्पिनर राकेश ध्रुव (35 रन देकर दो विकेट) ने निशाम को उन्मुक्त के हाथों कैच करा दिया। सक्सेना ने अपने अगले ओवर में नए बल्लेबाज डि बूर्डर (शून्य) को अपनी ही गेंद पर कैच किया। जब कीवी टीम संकट में दिख रही थी तब रोंची ने न सिर्फ एक छोर बचाए रखा बल्कि तेजी से रन भी बटोरे। उन्होंने इस बीच अपने प्रथम श्रेणी करियर का 12वां शतक पूरा किया।
रोंची का एस्टल के रूप में अच्छा जोड़ीदार मिला जिन्होंने अपना 13वां अर्धशतक लगाया। धवल कुलकर्णी ने रोंची को एलबीडब्ल्यू आउट करके उनकी शानदार पारी का अंत किया जबकि सक्सेना ने एस्टल को आउट करके अपना पांचवां विकेट हासिल किया। एस्टल ने 157 गेंद खेलीं तथा सात चौके लगाए।

निचले क्रम में डग ब्रेसवेल (16) और मार्क गिलेस्पी (नाबाद 21) के प्रयास से कीवी टीम 300 रन के पार पहुंचने में सफल रही। (भाषा)



और भी पढ़ें :