रोहित शर्मा : ऑस्ट्रेलिया ने आक्रामक रुख अपनाया

चेन्नई| भाषा| पुनः संशोधित शनिवार, 16 फ़रवरी 2013 (23:03 IST)
FILE
चेन्नई। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अभ्‍यास मैच में भले ही भारत-ए के बल्लेबाजों का दबदबा रहा हो, लेकिन मेजबान टीम के बल्लेबाज रोहित शर्मा ने कहा कि मेहमान टीम का गेंदबाजी आक्रमण अच्छा है। रोहित ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया ने इसलिए काफी रन दिए क्योंकि उन्होंने आक्रामक रुख अपनाया और अपनी गेंदबाजी में प्रयोग किए।


रोहित ने 77 रन की उपयोगी पारी खेली और शतकवीर गौतम गंभीर (112) के साथ दूसरे विकेट के लिए 128 रन की साझेदारी की, जिससे भारत-ए ने पहले दिन चार विकेट पर 338 रन बनाए।

रोहित ने दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा, उनका आक्रमण ठीक-ठाक है। वे क्षेत्ररक्षकों को काफी करीब खड़ा करके आक्रमण करने का प्रयास कर रहे थे और इसलिए हमने मौकों का फायदा उठाया और तेजी से रन बटोरे।

रोहित ने कहा, वैसे भी जब बारी टेस्ट मैच की आती है तो खेल अलग तरह का होता है। वे अधिक सटीक गेंदबाजी करेंगे। आज शायद वे कुछ प्रयोग करने का प्रयास कर रहे थे। हमने इसका पूरा फायदा उठाया। यह 25 वर्षीय बल्लेबाज अपने प्रदर्शन से खुश हैं।


उन्होंने कहा, बेशक मैं खुश हूं। मुझे लगता है कि मुझे जो मिला मैं उससे खुश हूं, लेकिन मुझे पता है कि अगर आप शतक बनाओ तो आप संभवत: सोचते हो कि मुझे अब 150 रन बनाने चाहिए। मैंने जो भी रन बनाए मैं उससे खुश हूं।
रोहित ने कहा कि पीटर सिडल और मिशेल स्टार्क जैसे गेंदबाजों के खिलाफ विकेट पर टिके रहना और रन बनाना चुनौती था। उन्होंने कहा, वे काफी अच्छी गेंदबाजी कर रहे थे। यहां रन बनाना आसान नहीं था, क्योंकि आउटफील्ड और विकेट इतना तेज नहीं था। मैच के बीच में हमने उन्हें रिवर्स स्विंग करते हुए भी देखा। स्टार्क और सिडल ने बीच में चार ओवर फेंके और इस दौरान गेंद में काफी मूवमेंट था। यह समय काफी अहम था और हमने काफी अच्छी बल्लेबाजी की और विकेट नहीं दिए।
यह पूछने पर कि क्या ऑस्ट्रेलिया के स्पिनर टेस्ट श्रृंखला में भारतीय बल्लेबाजों को परेशान कर पाएंगे, रोहित ने कहा कि विरोधी टीम को कमतर आंकना बेवकूफाना होगा, लेकिन मेजबान टीम विरोधी स्पिनरों का सामना करने में सक्षम है। (भाषा)



और भी पढ़ें :