अंपायर को रोबोट न बनाओ-ब्रेट ली

नई दिल्ली (वार्ता) | वार्ता| पुनः संशोधित सोमवार, 28 जुलाई 2008 (20:09 IST)
ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने टेस्ट क्रिकेट में प्रयोग के तौर पर शुरू किए गए रेफरल सिस्टम का स्वागत किया है, लेकिन साथ ही कहा है कि इसमें मानवीय तत्व का पूरा ध्यान रखा जाना चाहिए।


ली ने आज यहां संवाददाताओं से कहाअंपारिंग फैसलों में शुरू किया गया रेफलर सिस्टम क्रिकेट के लिए एक अच्छा कदम है, लेकिन मेरा मानना है कि अंपायर को अंपायर ही रहने देना चाहिए, उसे रोबोट नहीं बनाना चाहिए।

भारत श्रीलंका टेस्ट सीरीज में प्रयोग के तौर पर शुरू किए गए रेफरल सिस्टम के लिए ली ने कहा कि यह रनआउट और स्टंपिंग फैसलों के लिए अच्छा है, लेकिन पगबाधा निर्णय को अंपायर पर ही छोड़ देना चाहिए, क्योंकि अधिकतर समय पगबाधा फैसलों में अंपायर का दृष्टिकोण सही होता है।
उन्होंने यह माना कि रेफरल सिस्टम से समय की जरूर बर्बादी होती है, लेकिन यह फैसलों में सटीकता लाने में मदद करता है और साथ ही खेल के लिए अच्छा है।

ली ने कहा मैं चाहता हूँ कि रेफरल सिस्टम में मानवीय तत्व का पूरा ख्याल रखा जाए। वरना तो ऐसा लगेगा कि आपने फैसलों के लिए एक रोबोट को खड़ा कर दिया है।



और भी पढ़ें :