रणतुंगा भी मैच फिक्सिंग पर करेंगे खुलासे

कोलंबो| वार्ता| पुनः संशोधित मंगलवार, 3 मई 2011 (15:07 IST)
हमें फॉलो करें
श्रीलंकाई पूर्व कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने अपने पूर्व साथी खिलाड़ी हसन तिलकरत्ने के श्रीलंकाई क्रिकेट में व्याप्त मैच फिक्सिंग के बयानों का समर्थन करते हुए इस मामले में और खुलासे करने का दावा किया है।


रणतुंगा ने कहा मैं एक संवाददाता सम्मेलन करने की योजना बना रहा हूँ जिसमें इस मुद्दे को लेकर कई और जानकारियों का खुलासा करूंगा। गौरतलब है कि पूर्व कप्तान तिलकरत्ने ने यह कहकर सनसनी मचा दी थी कि श्रीलंकाई क्रिकेट में वर्ष 1992 से मैच फिक्सिंग जारी है जिसे लेकर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान रशीद लतीफ भी उनका समर्थन कर चुके हैं। क्रिकेट के बाद राजनीति में प्रवेश कर चुके दोनों पूर्व कप्तान वर्तमान में विपक्षी पार्टी के सदस्य हैं।

वर्ष 1996 में अपनी कप्तानी में श्रीलंका को विश्वकप जिताने वाले रणतुंगा 2008 में श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड के प्रमुख भी रह चुके हैं। वर्ष 1990 में खेले गए दो मैचों पर संदिग्धता जताते हुए उन्होंने कहा मुझे उस वक्त खेले गए दो मैचों के बारे में संदेह है क्योंकि तब श्रीलंकाई क्रिकेटरों के पास पैसा नहीं था। करीब 20 वर्षों तक मैच फिक्सिंग पर चुप्पी साधे रखने के सवाल पर उन्होंने कहा कि अगर तिलकरत्ने यह खुलासा नहीं करते तो सच अब भी बाहर नहीं आ पाता। (वार्ता)



और भी पढ़ें :