श्रीलंका छह विकेट से विजयी

नॉटिंघम (वेबदुनिया न्यूज)| WD|
कुमार संगकारा की कप्तानी पारी और सलामी बल्लेबाज तिलकरत्ने दिलशान के साथ उनकी अर्धशतकीय साझेदारी से श्रीलंका ने आईसीसी विश्व ट्वेंटी-20 चैम्पियनशिप के ग्रुप सी के मैच में सोमवार को यहाँ ऑस्ट्रेलिया को छह विकेट से हराकर उसे टूर्नामेंट से बाहर कर दिया।


कुमार संगकारा ने 42 गेंद में दो छक्कों और चार चौकों की मदद से नाबाद 55 रन बनाए, जबकि दिलशान ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 32 गेंद में 10 चौकों की मदद से 53 रन की पारी खेली। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 62 रन जोड़े।

अजंता मेंडिस (20 रन पर तीन विकेट) और लसिथ मलिंगा (36 रन पर तीन विकेट) की सधी हुई गेंदबाजी से ऑस्ट्रेलिया को नौ विकेट पर 159 रन के स्कोर पर रोकने के बाद श्रीलंका ने एक ओवर शेष रहते चार विकेट पर 160 रन बनाकर मैच जीत लिया।

टॉस जीतकर श्रीलंका ने पहले क्षेत्ररक्षण चुना, जो कि सही फैसला साबित हुआ। श्रीलंका की ओर से सनथ जयसूर्या ने दो, जयवर्धने ने नौ और चामरा सिल्वा ने 11 रन बनाए, जबकि जेहान मुबारक 21 रन बनाकर नाबाद रहे।


इससे पूर्व पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की टीम ने नियमित अंतराल पर विकेट गँवाए और टीम एक समय 94 रन पर छह विकेट गँवाकर संकट में थी, लेकिन मिशेल जॉनसन (नाबाद 28) और डेविड हसी (28) ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया को चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुँचाया। ऑस्ट्रेलिया ने अंतिम पाँच ओवर में 65 रन जोड़े।
जॉनसन ने मात्र 13 गेंद की अपनी पारी में दो चौके और दो छक्के मारे। ऑस्ट्रेलिया को टूर्नामेंट में बने रहने के लिए यह मैच जीतना जरूरी था। वह अपने पहले मैच में शनिवार को वेस्टइंडीज से सात विकेट से हार गया था।

टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत काफी खराब रही और उसने चौथी गेंद पर ही सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर का विकेट गँवा दिया। तेज गेंदबाज एंजेलो मैथ्यूज की शॉर्ट गेंद को कट करने के प्रयास में वार्नर खाता खोले बिना ही प्वाइंट पर तिलकरत्ने दिलशान को आसान कैच थमा बैठे।
पिछले मैच में विफल रहे कप्तान रिकी पोंटिंग (25) ने सकारात्मक शुरुआत करते हुए सनथ जयसूर्या पर चौका जड़ने के बाद मैथ्यूज की गेंद को भी चार रन के लिए भेजा।

सलामी बल्लेबाज शेन वाटसन (22) ने टी-20 में पदार्पण कर रहे इसुरु उदाना का स्वागत लगातार तीन गेंदों पर चौके और छक्के के साथ किया। पोंटिंग ने भी लसिथ मलिंग के अगले ओवर में लगातार तीन चौके जमाए।
पोंटिंग और वाटसन के आक्रामक तेवरों को देखते हुए श्रीलंका के कप्तान कुमार संगकारा ने गेंद अपने ट्रंप कार्ड मेंडिस को थमाई जिन्होंने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान को बोल्ड करके इस साझेदारी को तोड़ा। पोंटिंग ने मात्र 15 गेंद में पाँच चौके जड़े और वाटसन के साथ दूसरे विकेट लिए 5.2 ओवर में 47 रन जोड़े।

मेंडिस ने अगले ओवर में सीधी गेंद पर वाटसन को भी पैवेलियन भेजा। इन दोनों के जल्दी-जल्दी आउट होने के बाद ऑस्ट्रेलिया की रन गति पर ब्रेक लग गया और उसे बाउंड्री के लिए 36 गेंद तक इंतजार करना पड़ा। रन गति कम होने का दबाव ब्रैड हैडिन (16) और माइकल क्लॉर्क (11) पर साफ दिखा जो खराब शॉट खेलकर अपने विकेट गँवा बैठे।
डेविड हसी ने मेंडिस की गेंद पर छक्के के साथ बाउंड्री के सूखे को खत्म करने की कोशिश की लेकिन एक गेंद बाद ही इस स्पिनर ने माइकल हसी (01) को पगबाधा आउट करके ऑस्ट्रेलिया को छठा झटका दिया। इस समय ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 94 रन था।

जॉनसन ने महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन के 16वें ओवर में दो छक्के और एक चौके की मदद से 21 रन बटोरकर रन गति बढ़ाने का प्रयास किया। जॉनसन और डेविड हसी ने विकेट के चारों ओर कुछ अच्छे शॉट जमाए, लेकिन उदाना की गेंद को छह रन के लिए भेजने के बाद डेविड अगली गेंद पर जयसूर्या को कैच दे बैठे।



और भी पढ़ें :