सप्‍ताहभर के शिविर से खुश हैं कुंबले

बेंगलुरु (भाषा)| भाषा|
भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान अनिल कुंबले श्रीलंका के आगामी दौरे के लिए आयोजित सप्‍ताहभर के शिविर के समाप्त होने के बाद संतुष्ट दिखे। कुंबले ने कहा कि हम सभी के लिए यह 7 दिन का शिविर अच्छा रहा। उन्होंने कहा कि यह अहम है कि हम एकजुट हों और अपने कौशल पर काम करें।


उन्होंने बताया कि श्रीलंका दौर के लिए टीम का चयन 8 जुलाई को होगा। कुंबले ने कहा कि श्रीलंका रवाना होने से पहले खिलाड़ी चेन्नई में एकत्रित होंगे और कुछ दिन अभ्यास करेंगे।

गौतम गंभीर और रोहित शर्मा जैसे युवा खिलाड़ियों को टेस्ट टीम में जगह मिलने की संभावना पर उन्होंने कहा कि ऐसे प्रतिभावान खिलाड़ियों का होना काफी अच्छा है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दौरों से भारत की टेस्ट टीम ने इकाई के रूप में शानदार प्रदर्शन किया है।

कुंबले ने कहा कि खिलाड़ी भाग्यशाली रहे कि शिविर में वर्षा से कोई बाधा नहीं पड़ी। उन्होंने कहा कि देश में अन्य भागों में वर्षा हो रही है जिसके कारण ज्यादा क्रिकेट नहीं हो पा रही है, लेकिन हम मौसम को लेकर भाग्यशाली रहे। शिविर में कोई विशेष फोकस नहीं था। हमने सामान्य अभ्यास किया। उन्होंने कहा कि शिविर में खिलाड़ियों को एक समूह के रूप में खेलने में मदद मिली और शिविर का माहौल पूरी तरह सहज है।

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर और सौरव गांगुली की शिविर से अनुपस्थिति के लिए कुंबले ने कहा कि वे व्यक्तिगत कार्यो से इंग्लैंड में हैं। वे सीनियर हैं और जानते है कि उनसे क्या उम्मीद की जाती है। अम्पायरिंग फैसलों के लिए प्रस्तावित रेफरल सिस्टम के बारे में पूछने पर कुंबले ने कहा कि इस व्यवस्था की श्रीलंका दौरे में परीक्षा होगी, लेकिन इस पर अभी टिप्पणी करना मुश्किल है।
कुंबले ने कहा कि रेफरल सिस्टम अभी प्रयोग के दौर में है और इस पर टिप्पणी करना मुश्किल है। हम श्रीलंका दौरे में इस व्यवस्था का आकलन करेंगे और उसके बाद ही इस पर कोई टिप्पणी कर पाएँगे। यह सब कुछ हमारे लिए नया है और हमें देखना होगा कि प्रौद्योगिकी इस पहलू में कितनी कारगर रहती है।

यह पूछने पर कि क्या इससे टेस्ट क्रिकेट में चीजें धीमी नहीं हो जाएँगी क्योंकि टीमों को एक दिन में 90 ओवर में पूरे करने में पहले ही दिक्कत आ रही है? कुंबले ने कहा कि टेस्ट टीमों के कप्तानों को अब चीजों को जल्दी निपटाना होगा।
कुंबले ने कहा चूँकि मैं पिछले छह महीने से टेस्ट कप्तान हूँ और मुझे एक दिन में 90 ओवर पूरे कराने में कोई परेशानी नहीं है। विश्व क्रिकेट में टेस्ट अंक पोजीशन के लिए कुंबले ने कहा कि उनकी टीम हमेशा पूरी गंभीरता के साथ खेलती है। उन्होंने कहा कि हम अंकों की तरफ नहीं देखते हैं, लेकिन हम सभी टेस्ट टीमों के खिलाफ जीतने के लिए गंभीरता के साथ खेलते हैं।



और भी पढ़ें :