ऑस्ट्रेलियाई मीडिया में छाए सचिन

सिडनी| भाषा| पुनः संशोधित सोमवार, 2 जनवरी 2012 (00:21 IST)
हमें फॉलो करें
ऑस्ट्रे‍लियाई मीडिया ‘तेंडुलकर मेनिया’ चढ़ा हुआ है क्योंकि सभी अखबार मंगलवार से यहां एससीजी पर शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट से पहले भारतीय मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर की तैयारियों की सुर्खियों से भरे पड़े हैं।


एससीजी मैदान तेंडुलकर का भारत के बाहर पसंदीदा मैदान है और ये अखबार इस चर्चा से भरे पड़े हैं कि यह भारतीय बल्लेबाज अपना 100वां अंतरराष्ट्रीय शतक इसी मैदान पर लगाएंगे।

एससीजी पर तेंडुलकर का औसत 221 है। उन्होंने इस मैदान में महज चार टेस्ट में नाबाद 241 रन के सर्वाधिक स्कोर से एक दोहरा शतक और दो शतक जमाए हैं। मीडिया में तेंडुलकर के इस ऐतिहासिक मैदान पर 100वां अंतरराष्ट्रीय शतक पूरा करने की चर्चा चल रही है।

स्थानीय मीडिया तेंडुलकर के 12 वर्षीय बेटे अर्जुन से भी काफी प्रभावित है, जिन्होंने अपने पिता के साथ नेट पर कुछ समय बिताया। ‘द आस्ट्रेलियन’ ने लिखा कि ‘तेंडुलकर को नेट पर देखकर लगता है कि उत्कृष्टता कितनी मुश्किल से हासिल की जाती है। कुछ भी चीज बिना प्रयास के नहीं हासिल की जा सकती है, कोई चूक नहीं छोड़ी जाती। हर एक्शन जिम्मेदाराना है। हमेशा कुछ सीखने की गुंजाइश होती है और हमेशा अतिरिक्त प्रयास किया जाता है।

मेलबोर्न में हुए पहले टेस्ट में भारत को 122 रन की शिकस्त का सामना करना पड़ा, जिसमें तेज गेंदबाज पीटर सिडल ने तेंडुलकर को आउट किया। ‘द ऑस्ट्रेलियन' ने लिखा कि तेंडुलकर ने अपनी समस्याओं को दूर करने के लिए नेट पर विशेषज्ञों के साथ एक घंटा बिताया। वे पूरे घंटे बल्लेबाजी करते रहे। दो विशेषज्ञ और एक स्टाफ गेंदबाज उन्हें 15 मीटर से गेंदबाजी करता रहा।
‘सिडनी मार्निंग हेराल्ड’ ने लिखा कि टेस्ट क्रिकेट के सर्वाधिक रन बटोरने वाले महान खिलाड़ी का बेटा अर्जुन तेंडुलकर पहले ही महान खिलाड़ी के बेटे को मिलने वाले ध्यान आकर्षण का आदी हो चुका है। अन्य अखबारों ने तेंडुलकर की विनम्रता के बारे में लिखा, जिसमें मौजूदा और पूर्व खिलाड़ी जैसे सुनील गावस्कर, शेन वार्न, ब्रायन लारा, इयान बॉथम, गैरी कर्स्टन, महेंद्रसिंह धोनी और जहीर खान द्वारा बताई गई बातें शामिल थीं। (भाषा)



और भी पढ़ें :