क्रिस गेल ने सॉमरसेट से अनुबंध तोड़ा

बेंगलुरु| भाषा| पुनः संशोधित गुरुवार, 3 मई 2012 (17:29 IST)
FILE
की एक साल से अधिक समय तक बाहर रहने के बाद अब की टीम में वापसी लगभग तय मानी जा रही है। इस विस्फोटक सलामी बल्लेबाज ने कैरेबियाई टीम की तरफ से खेलने की खातिर इंग्लिश काउंटी से समाप्‍त कर दिया है।

वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड (डब्ल्यूआईसीबी) के साथ विवाद के कारण गेल पिछले साल विश्व कप के बाद कैरेबियाई टीम की तरफ से नहीं खेल पाए, लेकिन हाल में हुए समझौते और अब सॉमरसेट के साथ हुए अनुबंध से हटने के बाद उनका इंग्लैंड के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला में खेलना तय माना जा रहा है।


गेल ने खुद को इंग्लैंड दौरे के लिए उपलब्ध रखने के लिए सॉमरसेट से अनुबंध समाप्‍त किया। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज को टेस्ट टीम में नहीं चुना गया है। गेल ने बयान में कहा कि मैंने गुरुवार को दो मई 2012 को सामरसेट काउंटी को लिखा और उनसे कहा कि मैं उस वादे का सम्मान नहीं कर पाउंगा, जो मैंने उनके साथ 2012 (फ्रैंड्स लाइफ टी-20) के लिए अनुबंध करते समय किया था।
उन्होंने कहा कि मैंने उनसे साफ कर दिया है कि मैंने यह फैसला वेस्टइंडीज क्रिकेट और वेस्टइंडीज क्रिकेट के चाहने वालों की खातिर किया है। मैं समझता हूं कि अब डब्ल्यूआईसीबी को फैसला करना चाहिए, जिससे मुझे अपने भविष्य के बारे में साफ पता चल सके।

गेल ने कहा कि मैं समझता हूं कि यह फैसला करने से मैं भारी जोखिम ले रहा हूं, क्योंकि मैं बिना गारंटी के और केवल इस उम्मीद के साथ अपना एक अनुबंध तोड़ रहा हूं कि मुझे फिर से वेस्टइंडीज की तरफ से खेलने के लिये चुन लिया जाएगा।
उन्होंने कहा कि अब मैंने डब्ल्यूआईसीबी और उनके चयन पैनल की सभी शर्तों को स्वीकार कर लिया है। मैंने कल टेलीकॉन्फ्रेंस के जरिए उनसे बात की थी और उनके सामने मैंने पिछले आश्‍वासन को दोहराया था, जो मैंने अपनी उपलब्धता को लेकर बोर्ड को दिया था।

गेल का कहना है कि इसलिए इसमें अब कोई संदेह नहीं कि मैंने चयनकर्ताओं के सामने पुष्टि कर दी है कि मैं अपनी आईपीएल फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के साथ अनुबंध के दायित्वों को पूरा करने के बाद क्रिकेट के सभी प्रारूपों में वेस्टइंडीज की तरफ से खेलने के लिए उपलब्ध हूं।
उन्होंने कहा कि मैं फिर से मैरून रंग की पोशाक पहनने, अपना अंतरराष्ट्रीय करियर फिर शुरू करने और वेस्टइंडीज क्रिकेट को अपनी सेवाएं देने के लिए उत्साहित हूं। (भाषा)



और भी पढ़ें :