क्रिकेट ट्रेनिंग सत्र के बाद पिता ने बेटे की हत्या की

मेलबोर्न| भाषा| पुनः संशोधित गुरुवार, 13 फ़रवरी 2014 (21:02 IST)
FILE
मेलबोर्न। मानसिक रूप से बीमार पिता ने ऑस्ट्रेलिया में सत्र के बाद बल्ले से अपने 11 साल के बेटे की हत्या कर दी। इस घटना से पूरा देश स्तब्ध है। बाद में पुलिस की गोली से उसकी भी मौत हो गई

रिपोर्ट के अनुसार ल्यूक बैटी पर उसके पिता ग्रेग ने बीती शाम प्रत्यक्षदर्शियों के सामने क्रिकेट बल्ले से सिर पर प्रहार किया। प्रत्यक्षदर्शियों में कई बच्चे भी शामिल थे।

पुलिस ने कहा कि उन्होंने इस व्यक्ति की छाती में गोली चलाई, उसने चाकू से उन्हें डराया था। पुलिस ने स्प्रे से उसे शांत करने की कोशिश की, लेकिन यह कारगर नही हो सका।
लड़के की मां रोसी बैटी इस हत्या के बाद स्तब्ध थीं। उन्होंने ‘हेराल्ड सन’ से कहा, उसके पिता को मानसिक समस्या थी, इसी कारण यह सब हुआ। ल्यूक के पापा उसे बहुत प्यार करते थे और मैं भी उसे सबसे ज्यादा प्यार करती थी। हम दोनों को ही अपना बेटा बहुत प्यार था।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बयान में कहा कि ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के सदस्यों ने जूनियर क्रिकेटर बैटी की आकस्मिक मौत पर शोक जताते हुए दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन अपनी बांह पर काली पट्टी बांधकर शोक मनाया था। (भाषा)



और भी पढ़ें :