दिल के लिए खतरनाक है ओवरटाइम

लंदन| भाषा|
हर रोज चार से पाँच घंटे तक करने वाले लोगों को दिल का दौरा पड़ने का जोखिम सामान्य लोगों की अपेक्षा बढ़ जाता है।

इस प्रकार अपने नए शोध से वैज्ञानिकों ने और निजी जीवन के बीच संतुलन पर जोर दिया है। वैज्ञानिकों ने छह हजार से अधिक ब्रिटिश नौकरशाहों पर अपना अध्ययन किया, जिन्हें दिन में 10 या उससे अधिक घंटे तक काम करने की आदत थी। इन्हें दिल का दौरा पड़ने से मौत होने का खतरा 60 फीसदी से अधिक बढ़ गया। इस जोखिम के कारण उन्हे गैर जानलेवा दिल का दौरा भी पड़ा।
बीबीसी ने खबर दी है कि धूम्रपान, अधिक वजन या कोलेस्ट्राल जैसे दिल के दौरे के जोखिम के ज्ञात कारणों से इन नतीजों के निष्कर्ष निकाले गए।

12 वर्षों के अध्ययन के बाद फिनलैंड के हेलसिंकी स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ आक्यूपेशनल हेल्थ के वैज्ञानिकों ने यह निष्कर्ष निकाला। दिल की बीमारी के कारण मृत्यु के 369 मामले पाए गए। इन लोगों को दिल का दौरा पड़ा था अथवा एंजाइना हुआ था।
यह निष्कर्ष ऑनलाइन यूरोपियन हार्ट जर्नल में प्रकाशित हुआ है। इनमें से कई मामले दिल की बीमारी और ओवरटाइम से जुड़े हैं। अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि इसके कई सारे स्पष्टीकरण हो सकते हैं। (भाषा)



और भी पढ़ें :