गलत होगा सेना के जरिए सत्ता परिवर्तन

वॉशिंगटन| भाषा| पुनः संशोधित मंगलवार, 29 मार्च 2011 (10:31 IST)
हमें फॉलो करें
के अनुभवों का उल्लेख करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आगाह किया है कि लीबिया में सेना के जरिए का प्रयास एक गलती होगा। उन्होंने कहा कि अमेरिका दोबारा से इस तरह के हालात को सहन करने की स्थिति में नहीं होगा।


ओबामा ने अपने 27 मिनट के भाषण में कहा कि मेरे सहित विश्व के अन्य नेताओं ने इस बात पर जोर दिया है कि लक्ष्य गैर सैन्य उद्देश्य से प्राप्त किया जाएगा। लेकिन सत्ता परिवर्तन के लिए हमारे सैन्य मिशन का विस्तार किया जाना एक गलती होगा।

उन्होंने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि मुअम्मर गद्दाफी को सत्ता से बाहर किए जाने से लीबिया और विश्व की स्थिति बेहतर होगी।

ओबामा ने कहा कि मैंने अपने बलों को जो कार्य सौंपा है वह तत्काल खतरे से लीबिया के नागरिकों की रक्षा करने और संयुक्त राष्ट्र प्रस्ताव तथा अंतरराष्ट्रीय समर्थन के अनुसार उड़ान निषिद्ध क्षेत्र स्थापित करने का है। इसमें वह कार्य भी शामिल है जो लीबियाई विपक्ष ने हमसे करने को कहा है। (भाषा)



और भी पढ़ें :