खतरों से भरा होता है सैन्य अभियान

वॉशिंगटन| भाषा|
हमें फॉलो करें
लीबिया में चलाए जा रहे में मंगलवार को अमेरिकी लड़ाकू विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने से दो पायलटों की जान जोखिम में पड़ने के बारे में राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि ऐसा कोई सैन्य अभियान नहीं है जिसमें खतरा न हो। ये दोनों पायलट सुरक्षित बच गए।


ओबामा ने कहा कि दोनों अमेरिकी पायलटों के सुरक्षित होने से हम बहुत राहत महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पेंटागन के मुताबिक विमान दुर्घटना का कारण तकनीकी गड़बडी है और इस घटना से साबित हो गया कि हमारी सेना किसी भी आकस्मिक स्थिति के लिए पूरी तरह तैयार है।

इस संबंध में आगे की योजना के बारे में ओबामा ने कहा कि उन्होंने ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टॉफ के अध्यक्ष एडमिरल माइक मुलेन से विशेष तौर पर बातचीत की है। उन्होंने कहा कि चूँकि खतरा काफी है इसलिए इस तरह की घटनाओं से निपटने के लिए अमेरिका को पूरी तरह तैयार होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि हम सभी जानते हैं कि सैन्य अभियान जोखिमों से भरे होते हैं और दूसरों को बचाने के लिए खुद को खतरे में डालने वाले युवक-युवतियों की बहादुरी तथा साहस ने मुझे हमेशा प्रभावित किया है।


उल्लेखनीय है कि कल रात अमेरिका का एक लड़ाकू विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। हालाँकि इसके दोनों पायलट सुरक्षित बच गए जिन्हें लीबिया के विद्रोही बलों ने वापस भेज दिया। (भाषा)



और भी पढ़ें :