बहामास में शार्क के शिकार पर प्रतिबंध

मियामी| भाषा| पुनः संशोधित बुधवार, 6 जुलाई 2011 (10:24 IST)
में के पर लगा दिया गया है। इस विशाल समुद्री जीव के संरक्षण की दिशा में कदम उठाने वाला यह हालिया देश है। चीनी भोजन में शार्क के पंखों की भारी मांग के कारण यह जीव खतरे में है।

अटलांटिक सागर द्वीप समूह का कहना है कि वह अपनी 630,000 वर्ग किलोमीटर की जलीय सीमा में शार्क के व्यावसायिक शिकार के साथ ही इससे (शार्क से) संबंधित उत्पादों के आयात या निर्यात प्रतिबंध लगा रहा है।

देश के संसाधनों का प्रबंधन देखने वाले बहामास नेशन ट्रस्ट के अध्यक्ष नील मैककीने ने कहा कि लोग कहते हैं, ‘हम शार्क की रक्षा क्यों कर रहे हैं। वे सिर्फ लोगों और दूसरी मछलियों को खाती हैं।’ लेकिन वास्तव में इसकी तुलना में शार्क के बारे में कई चीजें हैं।
पर्यावरण संतुलन में शार्क के अहम योगदान की बात कहते हुए उन्होंने कहा कि यदि हम उन्हें विलुप्त होने से बचाना चाहते हैं तो उन्हें संरक्षण की सख्त जरूरत है। (भाषा)



और भी पढ़ें :