चंकी से कुत्ता बड़ा स्टार

समय ताम्रकर|
हमें फॉलो करें
ऑस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों ने स्तन कैंसर के लिए जिम्मेदार दो और आनुवांशिक कारकों की पहचान की है। इनके मिलने से ऐसे जीनों के संयोजन की पहचान हो सकेगी जो साथ मिल कर महिलाओं में स्तन कैंसर के लिए उत्तरदायी होते हैं।


हाल ही में यूके कैंसर रिसर्च और मेलबोर्न विश्वविद्यालय द्वारा संयुक्त रूप से किए एक अध्ययन में ऐसे लो रिस्क जीनों की पहचान हुई है। अध्ययन के दौरान ऑस्ट्रेलिया समेत 16 देशों की लगभग 80 000 महिलाओं में जीनों का परीक्षण किया गया जिनमें से आधी कैंसरपीड़ित और आधी कैंसरमुक्त थीं।

एक रिपोर्ट के मुताबिक इस कार्य से इस जानलेवा बीमारी के अध्ययन में और सहायता मिल सकेगी। मेलबोर्न विश्वविद्यालय के जनस्वास्थ्य के निदेशक जान होपर ने कहा कि अनुसंधान विशेषज्ञों को यह पता चल चुका है कि उन्हें कहाँ देखना है अब वे स्तन कैंसर के कारणों पर ज्यादा बेहतर तरीके से ध्यान केंद्रित कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि हालाँकि स्तन कैंसर के प्राथमिक कारण अब भी स्पष्ट नहीं हैं लेकिन अब शरीर में ऐसे जीन मिलने से स्तन कैंसर की आशंका के बारे में साफ पता चल सकेगा।



और भी पढ़ें :