प्रियंका चोपड़ा का फॉर्मूला

Priyanka
IFM
सफल कलाकारों को रोजाना कई फिल्मों के प्रस्ताव मिलते हैं। सभी फिल्म करना संभव नहीं होता है। कुछ तो निर्माताओं को स्पष्ट रूप से ना कह देते हैं, कुछ कहानी या स्क्रिप्ट में दोष निकालते हैं या डेट्स नहीं होने का बहाना बनाते हैं। लेकिन प्रियंका चोपड़ा इस मामले में अलग नीति अपनाती हैं।

सूत्रों के मुताबिक कहानी पसंद नहीं आने पर प्रियंका निर्माता को ना कहने के बजाय इतनी ज्यादा रकम माँगती हैं कि निर्माता चुपचाप खिसक लेता है। और यदि निर्माता मान जाए तो भी फायदा हो जाता है। मार्केट रेट से बहुत ज्यादा कीमत प्रियंका को मिल जाती है।

प्रियंका ने इस नी‍ति पर चलते हुए पिछले दिनों संजय गढ़वी की फिल्म ‘7 डेज़ इन पेरिस’ को ठुकरा दिया। इस फिल्म में नायक हैं। आमिर की तर्ज पर उन्होंने स्क्रिप्ट में दखलअंदाजी करते हुए इतने बदलाव करवा दिए कि ने फिल्म छोड़ दी।

समय ताम्रकर|
कैटरीना के हटने के बाद संजय गढ़वी प्रियंका के पास गए। फिल्म में हीरोइन को करने के लिए कुछ खास नहीं था। प्रियंका ने संजय को मना करने के बजाय फिल्म करने के बदले पाँच करोड़ रुपए माँग लिए। बेचारे संजय अब दूसरी नायिका की तलाश कर रहे हैं।



और भी पढ़ें :