आई लव यू...लॉट्स

WDWD
वो हमेशा इस तरह की ही बातें करता रहता था और मेरा उससे कहना था कि इस प्रकार की बातें सिर्फ फिल्मों में अच्छी लगती हैं लेकिन आज उसकी हर बातें मेरे लिए एक मीठी यादें बनकर रह गई हैं।

प्यार के लिए उसने जो भी करना था वह सब कुछ किया लेकिन शायद उसके नसीब में वो सुख था ही नहीं जिसका सपना वह हर दिन देखा करता था। आज वह इस दुनिया की भीड़ में कहीं गुम हो गया है उसका कोई पता नहीं। हम चाह के भी उसे ढूँढ नहीं पा रहे हैं। मेरा दोस्त मेरा सब कुछ था वह। हमेशा खुश रहने वाला, अपनी मनमानी करने वाला, थोड़ा गुस्सेवाला और एक नंबर का जिद्दी होने के बावजूद वह मुझे सबसे प्यारा था।

मैंने उसकी बदौलत ही तो प्यार को इतनी नजदीक से जाना वरना मेरा और प्यार का दूर-दूर तक कोई रिश्ता-नाता नहीं था। मेरा आदर्श, मेरा टीचर और मेरा पक्का दोस्त आज मालूम नहीं कहाँ खो गया है। कहीं वह मुझे और इस दुनिया को छोड़कर तो नहीं चला गया?

नहीं...नहीं..ऐसा कभी नहीं हो सकता वो कायर नहीं था वही तो हमें हमेशा कहता रहता था कि 'जीवन के हर दिन को हमें जी भर के जी लेना चाहिए क्योंकि जिंदगी इंसान को सिर्फ एक बार ही मिलती है।'' आप इसे शाहरूख की फिल्म का डायलॉग ही समझो लेकिन जब भी वह यह बात बोलता था मैं कुछ सोचने पर मजबूर हो जाती थी।

जब भी प्यार के नाम पर मुझे डर लगता वह मेरी हिम्मत बढ़ाता था। वह कहता था कि अगर आप किसी से सच्चा प्यार करते हो तो आपको किसी से डरने की भला क्या जरूरत है।

कोई कहता है जीवन में इंसान को सिर्फ और एक बार ही सच्चा प्यार होता है और दूसरा प्यार उसके लिए सिर्फ समझौता होता है। लेकिन मुझे इस इंसान में यह बात देखने को नहीं मिली। पहले प्यार ने तो उसे धोखा दे दिया था लेकिन दूसरे प्यार ने भी अपने परिवार के सामने लाचार होकर ना चाहते हुए भी उसका साथ छोड़ दिया।

  आज मैं उसे बहुत याद कर रही हूँ उससे जुडी हर बात आज भी मुझे उसके पास जाने पर मजबूर कर रही है। आखिर मैं उसको क्यों बता नहीं पाई कि मैं उसे कितना प्यार करती थी। मैं हिम्मत जोड़ नहीं पाई आखिर क्यों?      
वह हमेशा कहता था 'जिसको हमने प्यार किया उसने किसी और के लिए हमें छोड़ा और जो हमसे प्यार करती थी उसने अपने परिवार के लिए हमसे नाता तोड़ा'। फिर भी उसने कभी किसी को दोष नहीं दिया कभी किसी को भला-बुरा नहीं कहा बस आखिर तक सबको एक ही बात कहता चला गया कि 'हमेशा खुश रहना...बस हमेशा खुश रहना'।

मैंने सुना है कि अगर कोई आपको सच्चे दिल से प्यार करता हो और आप उसे धोखा देकर या किसी परिस्थिति में लाचार कर छोड़ देते हो तो आपको बद्‍दुआ लगती है। लेकिन उसके प्यार को कोई बद्‍दुआ नहीं लगी शायद उसने कभी अपने प्यार का बुरा चाहा ही नहीं होगा।

पहले प्यार के बारे में तो मैं कुछ बता नहीं सकती लेकिन दूसरे प्यार के बार में दुनिया के सामने में पूरे विश्वास के साथ कह सकती हूँ क्योंकि....आज उसका दूसरा प्यार बहुत खुश है आज उस लड़की की शादी हो चुकी है घर में उसको समझने वाला पति और प्यारे बच्चे हैं। उसने अपने बेटे का नाम उस लड़के के नाम पर रखा है और बेटी का नाम उस लड़के को जो पसंद था वही रखा है। मैं यह सब कुछ इसलिए बता सकती हूँ क्योंकि मैं ही तो उसका दूसरा प्यार हूँ।

आज मैं उसे बहुत याद कर रही हूँ उससे जुडी हर बात आज भी मुझे उसके पास जाने पर मजबूर कर रही है। आखिर मैं उसको क्यों बता नहीं पाई कि मैं उसे कितना प्यार करती थी। मैं हिम्मत जोड़ नहीं पाई आखिर क्यों?

बस मैं उसे इतना ही कहूँगी कि आई लव यू.....आई लव यू......आई लव यू...वह जहाँ भी होगा उसे मेरे यह शब्द जरूर सुनाई देंगे.... आई लव यू...मिस यू... आई लव यू...आई लव यू....लॉट्

बी माय वेलन्टाइन : अगर आप किसी को सच्चा प्यार करते हो तो उसी समय दुनिया का डर रखे बगैर उसे बता दो। 'आज' की बात कभी भी 'कल' पर नहीं छोड़नी चाहिए।

WD|
जनकसिंह झाला बहुत करता हूँ मैं उससे..
उससे जुड़ा हर सपना सच करना चाहता हूँ मैं.. दुख का दरिया पार करके दूर आसमान में एक बसेरा बनाना चाहता हूँ मैं... जहाँ कोई नहीं सिर्फ और सिर्फ हम दोनों होंगे... वहाँ हमारे हर सपने सच होंगे.''
क्योंकि......क्योंकि जिसका 'आज' खो जाता है उसे कल कभी भी नहीं मिलता।


सम्बंधित जानकारी


और भी पढ़ें :