Video: घर से भागी बहन की मुंहबोले भाई ने धूमधाम से करवाई शादी, पुलिस वाले बने बाराती

Author अवनीश कुमार| Last Updated: मंगलवार, 10 अगस्त 2021 (20:23 IST)
हमें फॉलो करें
कानपुर। उत्तरप्रदेश के देहात में एक ऐसा वाकया सामने आया है जिसको सुनने के बाद भाई-बहन के रिश्ते को निभाने में एक मुंहबोले भाई ने कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी है। अपनों से नाराज होकर घर से भागी युवती को इतना प्यार दिया कि वह अपनों को भी भूल जाए। मजदूर भाई ने भी अपनी बहन की जीवन में खुशियां भरने के लिए उसकी शादी करने की ठान ली और उसके लिए लड़का ढूंढकर शादी की तैयारियां भी करने लगा।


ALSO READ:

थलसेना ने जम्मू-कश्मीर में 100 फुट ऊंचा तिरंगा राष्ट्र को समर्पित किया

लेकिन इस दौरान दिक्कतों का पहाड़ उसके सामने आ गया और पुलिस मुंहबोले भाई-बहन को थाने लेकर चली आई। लेकिन जब सच्चाई पुलिस वालों को पता चली तो कानपुर देहात की पुलिस ने दोनों का साथ दिया जिससे सारी दिक्कतें मुंहबोले भाई-बहनों की खत्म हो गईं और पुलिस वालों ने युवती के परिजनों को सूचना देकर थाने बुलवाया और बाद में थाना परिसर में ही बने मंदिर में युवती की शादी घरवालों की रजामंदी से बड़े ही के साथ करवा दी।

क्या है मामला? : सीतापुर में द्वितीय बटालियन पीएसी में चतुर्थ श्रेणी पद पर तैनात राजकुमार की पुत्री शालिनी (20) करीब 3 माह पूर्व नाराज होकर घर से बहराइच चली गई थी। वहां पर मजदूरी करने वाले जनपद फतेहपुर निवासी रामगोपाल निषाद से उसकी मुलाकात हुई तो रामगोपाल निषाद ने उसकी सारी बातें सुनने के बाद उसे बना लिया। फिर दोनों भाई-बहन की तरह साथ में रहने लगे। कुछ दिनों के बाद रामगोपाल युवती को लेकर मंगलपुर थाना क्षेत्र के मढौली गांव निवासी दोस्त सुखराम कठेरिया के घर एक सप्ताह पूर्व आ गया। इसके बाद अपनी मुंहबोली बहन शालिनी की शादी बलाई बड़ी निवासी पिंकू यादव पुत्र लाखन सिंह के साथ तय कर दी और अपनी मुंहबोली बहन शालिनी की गोदभराई का कार्यक्रम रखा। लेकिन इस दौरान ग्रामीणों को शक हुआ कि युवती को बेचा जा रहा है जिसकी सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस युवती को थाने ले आई।




पिता भी हुए बारात में शामिल : जिस पिता से नाराज होकर शालिनी ने घर छोड़ दिया था, उसी पिता को पुलिस ने सूचना देकर थाने बुलाया और बेटी की सूचना मिलते ही पिता राजकुमार देर रात रविवार को सीतापुर में पीएसी द्वितीय बटालियन के सूबेदार सोहराब हुसैन जवानों के साथ थाने पहुंचे। थाने में युवती के पिता राजकुमार व बलाई बड़ी निवासी पिंकू के बीच सहमति बनने पर थाने के मंदिर में विवाह करा दिया गया। इस मौके पर पीएसी कमांडेंट राघवेंद्र सिंह की तरफ से भेजी गई नकद भेंट, जवानों ने 10 हजार रुपए व थाना प्रभारी राजेश यादव ने 5,100 रुपए की भेंट वधू शालिनी को दी।
क्या बोले अधिकारी? : एसएसआई राजेश कुमार ने बताया कि युवती ने घरवालों से नाराज होकर घर छोड़ दिया था और मैं अपने मुंहबोले भाई के साथ रह रही थी। थाने में सहमति से युवती की शादी करा दी गई है। इस दौरान उसके पिता भी मौके पर मौजूद थे। युवती और पिता के बीच जो भी नाराजगी थी, वह अब समाप्त हो गई है।



और भी पढ़ें :