कानपुर हिंसा, अखिलेश यादव ने उठाए खुफिया तंत्र पर सवाल

पुनः संशोधित शुक्रवार, 3 जून 2022 (20:28 IST)
हमें फॉलो करें
लखनऊ। के कानपुर में भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा के विवादित के बयान के बाद शुक्रवार को नमाज के बाद नई सड़क पर विवादित के बयान को लेकर एक पक्ष प्रदर्शन करने लगा और देखते ही देखते सड़क पर पत्थरबाजी होने लगी, जिसके चलते दो पक्ष आमने-सामने आ गए थे। समाजवादी पार्टी के मुखिया ने कानपुर हिंसा के लिए खुफिया तंत्र पर सवाल उठाया है।


समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने पुलिस की कार्यप्रणाली को फेल बताते हुए भाजपा प्रवक्ता की गिरफ्तारी की मांग की है। ट्विटर के माध्यम से यादव ने पुलिस पर निशाना साधते हुए कहा है कि महामहिम राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के नगर में रहते हुए भी पुलिस और खुफिया तंत्र की विफलता से भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा दिए गए भड़काऊ बयान से कानपुर में जो अशांति हुई है, उसके लिए भाजपा नेता को गिरफ़्तार किया जाए।
उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील है। गौरतलब है कि एक टीवी चैनल पर बहस के दौरान भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा ने पैगंबर मोहम्मद साहब के खिलाफ विवादित टिप्पणी की थी। जिसके चलते अपने पैगंबर पर अपमानजनक टिप्पणी को लेकर मुस्लिम समुदाय बेहद दुखी था।
उल्लेखनीय है कि बवाल की सूचना पर डीएम और संयुक्त पुलिस आयुक्त समेत भारी फोर्स मौके पर पहुंचा और पैदल मार्च करते हुए लोगों को समझाने का प्रयास किया था और घायलों को अस्पताल भेजते हुए लगभग 20 लोगों को हिरासत में ले कर पूछताछ कर रही है, लेकिन वहीं कानपुर में हुए बवाल को लेकर अब राजनीतिक गलियारों में भी हलचल शुरू हो गई है।



और भी पढ़ें :