UP में अचानक बढ़े हत्या के मामले, मेरठ में 12 घंटे के भीतर 2 मर्डर, पुलिस महकमे में हड़कंप

हिमा अग्रवाल| पुनः संशोधित शनिवार, 2 अक्टूबर 2021 (15:58 IST)
हमें फॉलो करें
में 12 घंटे के अंदर हुई दो हत्याओं से हड़कंप मच गया है। पहली हत्या ग्रामीण क्षेत्र में एक महिला की हुई है और दूसरी हत्या शहर इलाके में मोबाइल चोरी के शक में एक युवक की पीट-पीटकर हुई है। दोनों शवों को पुलिस ने पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और आला अधिकारियों ने घटनास्थल पर पहुंच कर जांच के आदेश दिए हैं।

उल्लेखनीय है कि गोरखपुर में मनीष गुप्ता की हत्या के बाद इस तरह के कई मामले सामने आए हैं। शुक्रवार को लखनऊ में भी एक ठेकेदार की कुछ लोगों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी।

मेरठ थाना लिसाड़ी गेट क्षेत्र के जामिया चौक पर 28 वर्षीय दानिश रेगुलेटर बनाने का काम करता था। दो दिन पहले पड़ोस में रहने वाले सर्राफ नफीस का मोबाइल चोरी हो गया था। नफीस को चोरी का शक दानिश पर था।
शनिवार दोपहर नफीस और उसके दो भाइयों ने मृतक दानिश को उसके घर से उठाया और तालिबानी तरीके से अपने घर में चारपाई से बांधकर जमकर पीटा। माना जा रहा है कि पिटाई में उसके प्राइवेट पार्ट में चोट लग गई और उसकी मौत हो गई।

पीट-पीटकर हत्या की सूचना मिलते ही आसपास के लोग मौके पर पहुंच गए। सूचना मिलते ही डिप्टी एसपी और इंस्पेक्टर मौके पर पहुंचे। दानिश को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। हत्या को अंजाम देने वाला सर्राफ और उसके दोनों भाई मौक से फरार हो गए। पुलिस ने हत्या के आरोपियों की धरपकड़ के लिए तीन टीमें गठित की हैं। वहीं, मृतक के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।
महिला का गोली लगा शव मिला : दूसरी ओर, मेरठ के थाना खरखौदा क्षेत्र स्थित फफूंडा में 35 वर्षीय महिला का गोली लगा शव मिलने से सनसनी फैल गई। आज सुबह महिला का शव ट्यूबवेल के पास ग्रामीणों ने देखा तो पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस के मुताबिक महिला के एक गोली सिर और दूसरी सीने में लगी है। महिला कौन थी और उसकी हत्या क्यों हुई है, पुलिस इसकी तफ्तीश में जुटी हुई है।
प्रथम दृष्टया पुलिस का मानना है कि हत्या की वारदात को कहीं और अंजाम दिया गया है और शव को लाकर यहां पर फेंका गया है। पुलिस ने आसपास के क्षेत्र में महिला की शिनाख्त के लिए अपने मुखबिर तंत्र को सक्रिय कर दिया है।



और भी पढ़ें :