रामापीर : चमत्कारिक संत बाबा रामदेव के 5 परचे...

अनिरुद्ध जोशी 'शतायु'|
गुरु बालीनाथजी का धूना : रामदेवजी के गुरु बालीनाथजी का धूना या आश्रम पोकरण में स्थित है। बाबा ने बाल्यकाल में यहीं पर गुरु बालीनाथजी से शिक्षा प्राप्त की थी। यही वह स्थल है, जहां पर बाबा को बालीनाथजी ने भैरव राक्षस से बचने हेतु छिपने को कहा था। शहर के पश्चिमी छोर पर सालमसागर एवं रामदेवसर तालाब के बीच में स्थित गुरु बालीनाथ के आश्रम पर लाखों श्रद्धालु सिर नवाने आते हैं।
भैरव राक्षस गुफा : यहीं पर भूतड़ा जाति के भैरव नामक की गुफा भी है। भैरव राक्षस का काफी आतंक था। आज भी रामदेवजी की पूजा के बाद भैरव राक्षस को बाकला चढ़ाने का रिवाज इस क्षेत्र में है। यह गुफा मंदिर से 12 किमी दूरी पर पोकरण के निकट स्थित है। वहां तक जाने के लिए पक्का सड़क मार्ग है।

अगले पन्ने पर बाबा ने समाधि लेते वक्त क्या कहा...



और भी पढ़ें :