1. खेल-संसार
  2. अन्य खेल
  3. रियो ओलंपिक 2016
  4. India in Rio
Written By
पुनः संशोधित शनिवार, 20 अगस्त 2016 (12:49 IST)

भारत का एथलेटिक्स में निराशाजनक प्रदर्शन जारी

रियो डि जेनेरियो। भारतीय एथलेटिक्स दल का रियो ओलंपिक में खराब प्रदर्शन जारी रहा तथा पैदल चाल में जहां भारतीय एथलीट अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के करीब भी नहीं पहुंच पाए वहीं 4x400 मीटर में पुरुष टीम को डिसक्वालीफाई कर दिया गया जबकि महिला टीम 7वें स्थान पर रहकर फाइनल में जगह बनाने में नाकाम रही। 
 
निर्मला शेरोन, टिंटु लुका, एमआर पूवम्मा और एनिल्डा थॉमस की महिला टीम ने दूसरी हीट में 3 मिनट 29.33 सेकंड का समय निकाला और वह 8 टीमों के बीच केवल क्यूबा से आगे रही। भारतीय महिला टीम 16 टीमों के बीच ओवरऑल 13वें स्थान पर रही। 
 
मोहम्मद कुंजु, मोहम्मद अनस, अयासामी धारून और राजीव अरोकिया की पुरुष टीम ने 3 मिनट 02.24 सेकंड का समय निकाला लेकिन आखिरी चरण में धारून और राजीव के बीच बैटन को गलत तरीके से देने के कारण टीम को डिसक्वालीफाई कर दिया गया। 
 
राजीव ने कहा कि अनुभवहीनता के कारण हमें नुकसान हुआ। हमने अच्छी तरह से बैटन एक-दूसरे को सौंपने की कोशिश की लेकिन आखिर में गलती कर गए। 
 
इससे पहले महिलाओं की 20 किमी पैदल चाल में 1 घंटा 33 मिनट 56 सेकंड का अपना सर्वश्रेष्ठ समय निकालने वाली सपना पूनिया रेस पूरी नहीं कर पाई जबकि एशियाई खेलों की रजत पदक विजेता खुशबीर कौर ने 1 घंटा 40 मिनट 33 सेकंड का समय लिया और वह 63 प्रतिभागियों के बीच 54वें स्थान पर रही। 
 
खुशबीर का समय उनके सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत प्रदर्शन से काफी खराब रहा। उन्होंने इंचियोन एशियाई खेल 2014 में 1 घंटा 33 मिनट 7 सेकंड का अपना सर्वश्रेष्ठ समय निकालकर रजत पदक जीता था। 
 
एथलेटिक्स में अब केवल पुरुष मैराथन में भारत की उम्मीद बची है। खेलों के आखिरी दिन होने वाली इस स्पर्धा में नीतेंद्र सिंह रावत, खेता राम और गोपी टोंकवाला अपनी चुनौती पेश करेंगे। 
 
भारत को 4x400 मीटर रिले में महिला टीम से काफी उम्मीद थी। इस रेस में निर्मला ने भारत की तरफ से शुरुआत की और पहले लैप में ही पिछड़ गई। निर्मला से बैटन थामने वाली टिंटु लुका भी समय में सुधार करने में नाकाम रही जिससे पूवम्मा और एनिल्डा के पास कोई मौका नहीं बचा। 
 
आखिर में भारतीय टीम जमैका, ग्रेट ब्रिटेन, कनाडा, इटली, जर्मनी और बहामास के बाद 7वें स्थान पर रही। जमैका, ब्रिटेन और कनाडा हीट नंबर 2 में सबसे ऊपर रही। प्रत्येक हीट में चोटी पर रहने वाली 3 टीमें तथा दोनों हीट में ओवरऑल अगला 2 सर्वश्रेष्ठ समय निकालने वाली टीमें फाइनल में पहुंचीं। (भाषा) 
 
ये भी पढ़ें
यूनान को 12 वर्ष बाद एथलेटिक्स में स्वर्ण