माता कालिका के 5 चमत्कारिक मंदिर...

अनिरुद्ध जोशी 'शतायु'|
हिन्दू धर्म में सबसे जागृत देवी है मां कालिका। मां कालिका को खासतौर पर बंगाल और असम में पूजा जाता है। मां काली को देवी दुर्गा की दस महाविद्याओं में से एक माना जाता है।
मां काली के चार रूप है- दक्षिणा काली, शमशान काली, मातृ काली और महाकाली। मां कालिका के यूं तो हजारों मंदिर है, लेकिन 5 मंदिर ऐसे हैं जिनका कालिका पुराण में उल्लेख मिलता है।> >
कालिका के दरबार में जो एक बार चला जाता है उसका नाम-पता दर्ज हो जाता है। यहां यदि दान मिलता है तो दंड भी। माता के नाम से एक अलग ही पुराण है, जिसमें उनकी महिमा का वर्णन है।
 
काली को माता जगदम्बा की महामाया कहा गया है। मां ने सती और पार्वती के रूप में जन्म लिया था। सती रूप में ही उन्होंने 10 महाविद्याओं के माध्यम से अपने 10 जन्मों की शिव को झांकी दिखा दी थी।
अगले पन्ने पर पहला चमत्कारिक मंदिर...
 

 

और भी पढ़ें :