फेसबुक पर 30 दिन में लिखी कहानियों को दी गई किताब की शक्ल

नई दिल्ली| पुनः संशोधित रविवार, 7 जनवरी 2018 (22:19 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। पर तीस दिन में तीस लेखकों द्वारा एक ही पात्र के जीवन पर लिखी गईं कहानियों को का रूप दिया गया है जिसका आज यहां विश्व पुस्तक मेले में लोकार्पण किया गया। नई किताब प्रकाशन समूह के तहत अनन्य प्रकाशन द्वारा प्रकाशित ‘30 शेड्स आफ बेला’ में अनोखा प्रयोग किया गया है जहां ‘बेला‘ नाम के पात्र को केंद्र में रखकर 30 लेखकों ने 30 दिन में इतनी ही कहानियां लिखी हैं।
इसे ‘फास्ट फिक्शन श्रृंखला’ के नए फार्मेट में प्रकाशित किया गया है। पुस्तक की संपादक के मुताबिक इस किताब में इस तरह से सोशल मीडिया पर लेखकों से एक ही किरदार के जीवन को आगे बढ़ाती कहानियां लिखाकर उन्हें किताब की शक्ल देने का बिल्कुल नया प्रयोग किया गया है। इसके लिए फेसबुक पर हर दिन एक नई कहानी डाली जा रही थी जिस पर पाठकों की अच्छी प्रतिक्रिया आई।

एक लेखक ने कहानी को जहां छोडा, नए लेखकों द्वारा उसे अपने अंदाज में वहीं से आगे बढ़ाया लेकिन एक कड़ी में बांधे रखने का प्रयास भी इसमें किया गया है। जयंती ने बताया कि विचार तो उनके दिमाग में काफी पहले से था लेकिन एक बार चोटिल होने के दौरान बिस्तर पर खाली समय में उन्होंने इसे मूर्त रूप दिया और इसमें उन्हें सफलता भी मिली। किताब में तीस लेखकों की अलग अलग शैलियां पाठकों को पढ़ने को मिलेंगी। इस ‘फास्ट फिक्शन श्रृंखला’ के संपादक अभिषेक कश्यप हैं।

(भाषा)



और भी पढ़ें :