तीसरी लहर की आशंका के बीच अब पत्नीटाप में होगा मानसून फेस्टिवल

सुरेश एस डुग्गर| पुनः संशोधित बुधवार, 1 सितम्बर 2021 (19:55 IST)
जम्मू। प्रदेश में जहां (Coronavirus) की का खतरा सिर पर मंडरा रहा है, वहीं प्रदेश में पटरी से उतर चुके पर्यटन की खातिर प्रदेश प्रशासन कोई भी खतरा मोल लेने को तत्पर दिख रहा है। यही कारण था कि उसने अब के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल पर 2 दिवसीय के आयोजन की घोषणा कर दी है।
यह सच है कि प्रदेश में कोरोनावायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पुलिस और प्रशासन लगातार कार्रवाई कर रहे हैं, लेकिन लोग अपनी लापरवाही के कारण कोरोनावायरस की तीसरी लहर को न्‍योता देते हुए नजर आ रहे हैं। शहर की सड़कों पर लोग चेहरे पर बिना मास्क लगाए घूमते हुए देखे जा सकते हैं।

खरीदारी के दौरान शारीरिक दूरी के नियम की सरेआम घज्जियां उड़ाई जा रही हैं। जम्मू पुलिस का दावा है कि बीते चार माह (अप्रैल 2021 से 30 जुलाई 2021) तक बिना मास्क के घूम रहे 2500 लोगों के चालान काटे गए हैं। इसके अलावा जागरूक करने के लिए नाकों पर तैनात होने वाले पुलिस वाहनों में लोगों को मास्क लगाने, सड़क किनारे अवैध पार्किंग न करने और शारीरिक दूरी का पालन करने को कहा जाता है।

इसके अलावा पुलिसकर्मी स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर उन लोगों की कोरोना जांच करते हैं, जो बिना मास्क के सड़कों पर घूम रहे होते हैं। संक्रमित पाए जाने वाले लोगों को तुरंत भीड़ से अलग किया जाता है। सड़क पर होने वाले अवैध पार्किंग से जाम की स्थिति बनी रहती है, जिससे शारीरिक दूरी के नियम का पालन नहीं हो पाता,
पर टूरिज्म की खातिर इन सभी बातों को नजरअंदाज किया जा रहा है।

यह इससे भी स्पष्ट होता है कि पत्नीटाप में पर्यटन को बढ़ावा देने को पत्नीटाप डेवलपमेंट अथारिटी (पीडीए) की ओर से पहली बार दो दिवसीय मानसून फेस्टिवल के आयोजन की घोषणा कर दी गई है। 11 और 12 सितंबर को होने वाले फेस्टिवल के लिए टेंडर जारी कर दिया गया है। इस पर करीब 20 लाख रुपए खर्च होंगे।
ALSO READ:
India Update : फिर बढ़ा कोरोना का कहर, 24 घंटे में मिले 41,965 नए मरीज
पत्नीटाप में पहली बार इतने बड़े स्तर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन होने जा रहा है। इसमें प्रदेश सहित पंजाब के दो प्रसिद्ध गायक भी हिस्सा लेंगे। वहीं पर्यटकों के बीच कई खेल प्रतियोगिताएं भी करवाई जाएंगी। दरअसल सरकार ने कश्मीर की तर्ज पर जम्मू संभाग में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए प्रयास शुरू किए हैं। जम्मू संभाग के सबसे प्रसिद्ध पर्यटन स्थल पत्नीटाप को इसके लिए चुना गया है।
इसके तहत 11 और 12 सितंबर को पहली बार मानसून फेस्टिवल का आयोजन होगा, जिसकी तैयारियां तेजी से जारी हैं। फेस्टिवल की शुरुआत दोपहर दो बजे होगी और फिर यह रात तक चलता रहेगा। इसमें हिस्सा लेने के लिए 300 से अधिक लोगों के बैठने की व्यवस्था होगी। इसके साथ ही यहां आकर्षक लाइटिंग की भी व्यवस्था की जाएगी।



और भी पढ़ें :