Coronavirus : तीसरी लहर को लेकर चेतावनी, गृह मंत्रालय के पैनल ने PMO को सौंपी रिपोर्ट

Last Updated: सोमवार, 23 अगस्त 2021 (12:52 IST)
नई दिल्ली। भारत में कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी देखी जा रही है। 6 दिन बाद 30 हजार से कम कोरोना मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में 25,072 नए कोरोना केस आए और 389 कोरोना संक्रमितों की जान चली गई।
ALSO READ:
पंजशीर घाटी में भीषण संग्राम, 300 तालिबानियों को मारने का दावा
इससे पूर्व 16 अगस्त को 25,166 मामले आए थे, वहीं 24 घंटे में 44,157 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं यानी कि कल 19474 एक्टिव केस कम हो गए। के मुताबिक कोरोना की का बच्चों और बड़ों पर समान रूप से असर होगा। रिपोर्ट मिलने के साथ ही सरकार अलर्ट हो गई है और जरूरी उपायों पर मंथन किया जा रहा है।
NIDM ने दी चेतावनी : इस बीच (NIDM) के तहत गठित एक एक्सपर्ट कमेटी ने कोविड की तीसरी लहर की चेतावनी दी है कि यह बच्चों के लिए खतरनाक हो सकती है। प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजी गई इस रिपोर्ट में अक्टूबर में कोरोना के फिर से पीक पर होने की आशंका जाहिर की गई है और इसको लेकर केंद्र को चेताया भी गया है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि इस स्थिति में देश में मेडिकल स्टाफ, डॉक्टर्स, नर्सेस, एम्बुलेंस, ऑक्सीजन के साथ ही दवाओं और मेडिकल उपकरणों की किस तरह व्यवस्था करना होगी। साथ ही सलाह दी गई है कि देश में अब बच्चों के टीकाकरण पर तेजी से काम शुरू किया जाना चाहिए।

सितंबर में रोजाना आ सकते हैं 4 से 5 लाख केस : नीति आयोग ने कोरोना की तीसरी लहर को लेकर चेतावनी जारी की है। आयोग ने आशंका जताई है कि सितंबर में 4 से 5 लाख कोरोना केस रोजाना आ सकते हैं। हर 100 कोरोना मामलों में से 23 मामलों को अस्‍पताल में भर्ती कराने की व्‍यवस्‍‍था करनी पड़ सकती है। ऐसे में पहले से ही 2 लाख आईसीयू बैड्स तैयार रखने की आवश्यकता है।



और भी पढ़ें :