रक्षा बंधन पर चयन करें राशि अनुसार राखी के रंग, पर्व मनाएं शुभ मुहूर्त के संग


भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक 26 अगस्त 2018, रविवार को मनाया जाएगा। श्रावण मास की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। इस त्योहार पर बहनें, भाई की कलाई पर रक्षासूत्र बांधती हैं और भाई उसकी रक्षा करने का वचन देता है। इस बार रक्षाबंधन के लिए समय ही समय मिलेगा। रक्षाबंधन वाले दिन भद्रा नहीं लगेगी, क्योंकि सूर्योदय से पहले ही यह समाप्त हो जाएगी। सावन महीने की पूर्णिमा तिथि 25 अगस्त, शनिवार की शाम 3 बजकर
18 मिनट से आरंभ होकर 26 अगस्त की शाम 5 बजकर 27 मिनट तक रहेगी।

रक्षासूत्र बांधते समय इस मंत्र का उच्चारण करें

शुभ मंत्र-

राखी बांधते समय बहनें इस मंत्र का उच्चारण करें, इससे भाइयों की आयु में वृद्धि होती है।
'ॐ येन बद्धो बलि राजा, दानवेन्द्रो महाबल:,
तेन त्वां प्रति बध्नामि, रक्षे मा चल मा चल।'

मेष व वृश्चिक राशि वाली बहनें अपने भाइयों को हल्के लाल रंग वाली हरी राखी बांधें, नीली
राखी से बचना चाहिए।

वृषभ व तुला राशि वाली बहनें सिल्वर की राखी बांधें या चमकीली सिल्वर
रंग की राखी बांधें।

मिथुन व कन्या राशि वाली बहनों को हल्के हरे रंग, नीली, आसमानी रंग की राखी उपयुक्त रहेगी।

कर्क राशि वाली बहनें सफेद रंग के धागों वाली सिल्वर राखी बांध सकती हैं।

सिंह राशि वाली बहनों द्वारा गुलाबी रंग के धागे से बनी राखी व गुलाबी रंग की राखी बांधना उत्तम रहेगा।

धनु व मीन राशि वाली बहनें पीले रंग की राखी का उपयोग करें।

मकर व कुंभ राशि वाली बहनें फिरोजी रंग व आसमानी रंग का उपयोग कर सकती हैं।

राखी बांधने के शुभ मुहूर्त
चर :
7.43 से 9.19 तक

लाभ :
9.19 से 10.54 तक

अमृत : 10.54 से 12.29 तक

शुभ : 14.04 से 15.39 तक

उपरोक्त समय चौघड़ियानुसार है। विजय मुहूर्त में जो रक्षासूत्र बांधना चाहें, उनके लिए 12.16 से 12.40 तक का समय उचित रहेगा। यह समय इंदौर के अनुसार है। बहनें अपनी सुविधानुसार समय का चयन कर सकती हैं। अन्य शहरों के लिए समय में 15 मिनट आगे कर लें।




और भी पढ़ें :