Kumbh Mela 2019 : पौष पूर्णिमा पर एक करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने संगम में लगाई डुबकी

Last Updated: सोमवार, 21 जनवरी 2019 (20:07 IST)
प्रयागराज। कुंभ मेले के दूसरे पर्व पौष पूर्णिमा पर सोमवार को करीब 1 करोड़ 7 लाख लोगों ने यहां गंगा और संगम में डुबकी लगाई। पौष पूर्णिमा के साथ कल्पवासियों का संगम में महीनेभर का कल्पवास शुरु हो गया और करीब 10 लाख कल्पवासी मेला क्षेत्र में आ चुके हैं।

मेलाधिकारी विजय किरण आनंद ने यहां मीडिया सेंटर में बताया कि सोमवार सुबह से ही स्नानार्थी मेला क्षेत्र में आ रहे हैं और शाम पांच बजे तक अनुमानित एक करोड़ सात लाख लोगों ने कुंभ क्षेत्र में स्नान किया। उन्होंने बताया कि 10 लाख से अधिक कल्पवासी मेले में आ चुके हैं और प्रयागवाल सभा एवं अन्य संस्थाओं से जानकारी एकत्र कर कल्पवासियों के सटीक आंकड़े प्रस्तुत किए जाएंगे।

कुंभ मेला डीआईजी केपी सिंह ने बताया कि सोमवार को मेला क्षेत्र में तीन अप्रिय घटनाएं घटित हुईं। इनमें एक घटना संगम नोज पर घटी जिसमें इटली से आई युवती एस. कैथरीन ठंडे पानी में अचेत हो गई। उसे पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया और अब वह सामान्य स्थिति में है। वह युवती इटली से आए 11 लोगों के समूह की सदस्य है।

सिंह ने बताया कि दूसरी घटना सेक्टर पांच में घटी जिसमें हंडिया के दुमदुमा गांव के निवासी 65 वर्षीय रामविलास को अचानक दिल का दौरा पड़ गया और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि सोमवार को मेला क्षेत्र के सेक्टर 15 में आग लगने की घटना प्रकाश में आई।

मुक्ति मार्ग पर राधाकृष्ण सत्संग मंडल नाम की एक संस्था कथित रूप से गैस सिलेंडर बेच रही थी और वहां के लोग चाय की दुकान चला रहे थे। पास में रखे फूस में आग लगने से तंबू आग की जद में आ गया और दुकानदार फरार हो गया। आग पर काबू पा लिया गया और किसी जानमाल की हानि नहीं हुई। उन्होंने बताया कि घटनास्थल से 20 सिलेंडर बरामद किए गए हैं और अंगद सिंह नाम के व्यक्ति का मोबाइल पड़ा मिला है और यह व्यक्ति फरार है।

पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है। सिंह ने बताया कि यमुना तट पर बोट क्लब के पास सफाईकर्मियों के लिए बने तंबू में भी आग लगने की घटना प्रकाश में आई। दमकलकर्मियों ने आग पर काबू पा लिया और जानमाल के नुकसान की रिपोर्ट नहीं है।



और भी पढ़ें :