काशी महाकाल एक्सप्रेस में भगवान शिव की रिजर्व सीट पर संग्राम

Last Updated: सोमवार, 17 फ़रवरी 2020 (08:26 IST)
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को वाराणसी से 'काशी-महाकाल एक्सप्रेस' को रवाना किया। इसमें एक सीट के लिए भी आरक्षित है।

भगवान शिव के लिए रखने पर AIMIM के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने उठाए हैं। ओवैसी ने ट्‍विटर पर संविधान की प्रस्तावना के साथ प्रधानमंत्री कार्यालय को टैग करते हुए महाकाल की सीट की खबर को रीट्‍वीट किया है।

Sir @PMOIndia https://t.co/HCeC9QcfW9 pic.twitter.com/6SMJXw3q1N

(@asadowaisi) February 17, 2020

ट्रेन 2 राज्यों के 3 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा करेगी। यह ट्रेन इंदौर के निकट ओंकारेश्वर, उज्जैन में महाकालेश्वर और वाराणसी में काशी विश्वनाथ को जोड़ेगी। कोच बी-5 की सीट नंबर 64 में भगवान शिव का एक छोटा मंदिर बनाया गया है।

आईआरसीटीसी संचालित इस ट्रेन में शाकाहारी भोजन मिलेगा, साथ ही इसमें भक्ति संगीत भी यात्रियों को सुनाई देगा। ट्रेन में 2 निजी गार्ड होंगे। ट्रेन का संचालन वाराणसी से इंदौर के बीच सप्ताह में 3 बार होगा।



और भी पढ़ें :